Saturday, February 24, 2024

Bihar Floor test: नीतीश पास , तेजस्वी फेल, आरजेडी के तीन विधायकों ने बदला पाला, जेडीयू के एक विधायक नहीं पहुंचे विधानसभा

सोमवार को पटना में सुबह से ही माहौल गरमाया रहा. राजनीति के अखड़े में नीतीश सरकार को बहुमत साबित करना था तो रविवार रात से ही खला शुरु हो गया था.
चेतन आनंद को पुलिस तेजस्वी यादव के घर से निकाल के ले गई वहीं जेडीयू के नाराज़ विधायक डॉ संजीव को पुलिस सुरक्षा में विधानसभा लाया गया.

राज्यपाल के अभिभाषण से शुरु हुआ सत्र

बिहार के राज्यपाल राजेंद्र अरलेकर का विधानसभा में संबोधन से सत्र शुरु हुआ. बजट सत्र होने के चलते सेंट्रल हॉल में राज्यपाल के संबोधन किया और सरकार की उपलब्धियाँ गिनवाई. अपने भाषण में राज्यपाल ने कहा कि “राज्य में कानून का राज स्थापित है और यह जारी रहेगा.”

बहुमत साबित करने से पहले स्पीकर को पद से हटाया गया

बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार के बहुमत साबित करने से पहले ही स्पीकर के खिलाफ अविस्वास प्रस्ताव पेश किया गया. विधानसभा स्पीकर अवध बिहारी चौधरी आरजेडी के विधायक हैं इसलिए बीजेपी, जेडीयू और हम ने 28 जनवरी को ही उनको पद से हटाने के लिए नोटिस दिया था. सदन में अध्यक्ष को हटाने के लिए वोटिंग हुई, जिसमें 125 विधायकों ने प्रस्ताव के समर्थन में और 112 वोट प्रस्ताव के विरोध में पड़े.

आरजेडी के तीन विधायकों ने बदला पाला

आनंद मोहन के बेटे चैतन आनंद, बहुबली अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी और प्रहलाद यादव ने बदला पाला. सत्र शुरु होते ही बताया गया कि सरकारी पक्ष ने चेतन आनंद और नीलम देवी को सचेतक के कमरे में रोक के रखा है. लेकिन फिर वो दोनों प्रहलाद यादव के साथ सदन में आए और सत्ता पक्ष के साथ बैठे. क्रॉस वोटिंग के चलते जाएगी अब विधायकी.

रविवार तक बिहार विधानसभा में दलगत स्थिति क्या थी

एनडीए गठबंधन -128 MLA ( बहुमत के लिए जरुरी 122 से 6 ज्यादा )
भारतीय जनता पार्टी (BJP) – 78 MLA,जनता दल यूनाइटेड (JDU)- 45 ,हिंदुस्तानी आवामी लीग (HAM)-4 ,OTHER – 1
राजद महागठबंधन -114 (बहुमत के लिए जरूरी से 8 विधायक कम )
राष्ट्रीय जनता दल (RJD) – 79 MLA ,कांग्रेस – 19 ,वामदल – 16 , AIMIM – 1

जानिए सरकार के पक्ष में कैसे पड़े 129 वोट

जब बहुमत साबित करने की बारी आई तो आरजेडी के तीन विधायक सत्ता पक्ष में चले गए. जेडीयू के एक विधायक (सुरसंड से विधायक दिलीप राय) नहीं पहुंचे और उपसभापति जो जेडीयू के थे उन्होंने वोट नहीं डाला. इस तरह नीतीश सरकार जिसने राज्यपाल के सामने 128 विधायकों के समर्थन का दावा किया था ने 129 वोटों के साथ बहुमत हासिल किया.

ये भी पढ़ें-Bihar Floor test Live: नीतीश सरकार विश्वास मत जीती, पक्ष में पड़े 129 वोट, विपक्ष ने किया वॉक आउट

Latest news

Related news