Texas में लगे ‘भारत वापस जाओ’ के नारे, भारतीय महिलाओं को दी गालियां, वायरल वीडियो से हुआ बवाल !

0
229

भारतीयों ने दुनिया के कोने कोने में अपनी छाप छोड़ी है. अपने टैलेंट और म्हणत के बलपर धरती से चाँद तक और भारत की ज़मीन से Nasa तक यहाँ ताकि दुनिया की कई नामी कंपनियों में हर जगह आपको भारतीय देखने को मिल जायेंगे. ऐसे में हम भले ही आज खुद को विष्व गुरु समझे, लेकिन बाहरी दुनिया की नज़र में भारतियों का क्या दर्जा है. आज एक वीडियो के रूप में आपको पता चल जाएगा. आज भी भारतियों के साथ विदेशों में नस्लवाद होता है. इसका ताज़ा शिकार बानी है कुछ भारतीय मूल की अमेरिकी महिलायें.

अमेरिका के टेक्सास का एक बेहद शर्मनाक वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें भारतीय महिलाओं पर नस्लीय हमला किया गया। उन्हें नेच्छा दिखाया गया उनके साथ मारपीट की गई. घटना टेक्सास के डेल्लास शहर के प्लानो की है. जहाँ डिनर के लिए एक होटल में आईं चार भारतीय-अमेरिकी महिलाएँ आपस में भारतीय लहजे में जब बात कर रही थी. तो एक सिरफिरी मेक्सिकन-अमेरिकन महिला ने उन पर नस्लीय टिप्पणी के साथ साथ उन्हें पीटना शुरू कर दिया. हालाँकि घटना का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने मैक्सिकन-अमेरिकन महिला को आरोपी मानते हुए गिरफ्तार कर लिया है. आरोपित महिला की पहचान एस्मेराल्डा अप्टन के रूप में हुई है.

घटना 24 अगस्त 2022 की है. वायरल हुए वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि मेक्सिकन-अमेरिकन महिला भारतीय मूल की महिलाओं को गालियाँ दे रही है और उन्हें भारत वापस जाने के लिए कह रही है. आरोपित महिला ने एक भारतीय महिला को थप्पड़ भी मारा. इसके अलावा उसने ‘आई हेट यू इंडियंस, गो बैक’ के नारे भी लगाए.

आरोपित महिला बहस के दौरान चिल्लाते हुए कहती है, “मैं मैक्सिकन-अमेरिकन हूँ. मैं यहाँ पर पैदा हुई हूँ, लेकिन जहाँ भी जाती हूँ, हर तरफ तुम भारतीय नजर आते हो. अगर भारत में जिंदगी अच्छी है तो तुम लोग यहाँ क्यों आ जाते हो. जिसके बाद उस महिला ने मारपीट की और गोली मारने की धमकी भी दी .

वीडियो वायरल होने के बाद टेक्सास के प्लानो शहर की पुलिस ने आरोपित महिला एस्मेराल्डा ऑप्टन को 25 अगस्त 2022 दोपहर को गिरफ्तार कर लिया. उसके खिलाफ नस्लीय हमला और आतंकी हमले की धमकी देने की धाराएँ लगाई गईं। इसके अलावा एस्मेराल्डा पर 10 हजार अमेरिकी डॉलर का जुर्माना भी लगाया गया है.

ये एक लौती वारदात नहीं है इस तरह की इस सप्ताह में दूसरी घटना है. इससे पहले कैलिफोर्निया में एक भारतीय पर गौमूत्र और गाय के गोबर को लेकर टिप्पणी की गई थी. टाको बेल फास्ट फूड आउटलेट में कृष्णा नाम के युवक के साथ यह घटना घटी थी.

एक तरफ हम भारत में सभी धर्म नस्ल रंग को भूलकर सबका स्वागत करते हैं प्रेम और इज़्ज़त देते हैं. वहीँ दूसरी तरफ हमारे देश के लोगों के साथ विदेशों में कैसा बर्ताव होता है. ये आप समझ ही गए होंगे.