Sunday, July 14, 2024

नशे के खिलाफ एक्शन मोड में योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश में चल रहे नशा मुक्ति अभियान को धार देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नशे के कोरबारियों के साथ सख्ती से निबटने के आदेश दिये हैं.

दिन प्रति दिन जिस तरह से नशीली पदार्थों के सेवन और उससे जुड़े अपराध के मामले सामने आ रहे हैं,वो चिंताजनक हैं. इन्हीं चिंताओं के मद्दनजर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि नशे का कारोबार करने वालों की पहचान की जाये और उनसे सख्ती से निबटा जाये. सीएम योगी ने कहा कि नशीली पदार्थों का  कारोबार उत्तर प्रदेश में किसी भी हालत में चलने नहीं दिया जायेगा. जो लोग इसका कारोबार करते पकड़े जायेंगे उनपर सख्त कार्रवाई की जायेगी, उनकी संपत्तियां जब्त की जायेगी. सीएम ने आह्वान किया कि नशे के कारोबार को जड़ से खत्म करने के लिए समाज के हर तबके का सहयोग जरुरी है, इस लिए सभी को अपनी भागीदारी दिखानी होगी.सरकार का अभियान देश का भविष्य  बनने वाले युवाओं को नशे के चंगुल में फंसने से बचाना हैं.

मेरठ  के CCSU कैंपस स्थित नेताजी सुभाष चंद्र बोस ऑडिटोरियम में सीएम योगी ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि युवा पीढ़ी को बर्बाद करने की साजिश को रोकना होगा. जिस तरह से उत्तर प्रदेश सरकार  ने अपराध के प्रति जीरो टालरेंस की नीति अपनाई है वैसे ही जहरीली शराब और खतरनाक ड्रग्स के कारोबार से  जुड़े माफियाओं को खत्म करने के लिए यूपी सरकार प्रतिबद्ध है. ऐसे लोगों को किसी भी हालत में बर्दास्त नहीं किया जायेगा जो नशे के कारोबार से जुड़े हों.उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब का धंधा नहीं चलने दिया जायेगा.नशे के सौदागरों पर शिकंजा कसा जायेगा.

सीएम योगी ने कहा कि नशे को कारोबारियों को राष्ट्रीय अपराधी घोषित कर सजा दिलायेंगे.

Latest news

Related news