Sunday, May 26, 2024

Swati Maliwal Assault Case: स्वाति के सम्मान में बीजेपी और उनके पूर्व पति मैदान में

दिल्ली महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष और अब राज्य सभा सांसद स्वाति मालिवाल Swati Maliwal Assault Case के साथ दिल्ली के सीएम केजरीवाल के घर पर मार-पीट का मामला सियासी रंग लेता जा रहा. एक तरफ जहां स्वाति ने अबतक इस मामले में कोई औपचारिक शिकायत दर्ज नहीं कराई है वहीं बीजेपी महिला मोर्चा की महिलाएं स्वाति के लिए इंसाफ मांगती हुई सड़क पर उतर आई हैं.

बीजेपी महिला मोर्चा का Swati Maliwal के समर्थन में प्रदर्शन

बुधवार को दिल्ली में AAP की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल से मारपीट मामले के खिलाफ भाजपा की महिला कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास के पास विरोध प्रदर्शन किया.


दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा, “दिल्ली की बहनें एक बहन के स्वाभिमान की लड़ाई लड़ने आई है. स्वाति मालीवाल जो दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष रही हैं, लगातार महिलाओं के सुरक्षा की बात करती रही हैं. अगर वे ही सुरक्षित नहीं हैं और वह भी मुख्यमंत्री आवास के अंदर तो आप दिल्ली की हालत समझ सकते हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री मुंह में दही जमाकर बैठे हैं, हाथों में चूड़ियां पहनी हुई हैं. उनके सांसद संजय सिंह इस बात को स्वीकार कर रहे हैं कि मुख्यमंत्री आवास में अभद्रता हुई है, कितना समय चाहिए आपको कार्रवाई करने के लिए? क्यों अरविंद केजरीवाल पुलिस में शिकायत नहीं दर्ज कराते?…”

Swati Maliwal Assault Case, वहां पर मौजूद सभी लोगों पर FIR होनी चाहिए-नवीन जयहिंद

सिर्फ बीजेपी ही नहीं स्वाति मालीवाल के पूर्व पति और AAP के पूर्व नेता नवीन जयहिंद ने कहा, “संजय सिंह खुद किस तरह से राज्यसभा गए हैं ये बात वो भी जानते हैं और मैं भी. वे केवल अरविंद केजरीवाल के ‘तोते’ हैं जो उनके इशारे पर काम करते हैं… संजय सिंह को पहले ही इस घटना के बारे में पता था कि ऐसा होगा… वे एक्टिंग कर रहे हैं… ये भाजपा-कांग्रेस या AAP का मामला नहीं है… आप(संजय सिहं) तो स्वाति मालीवाल को छोटी बहन कहते थे… जब ये घटना हुई तो वहां पर मौजूद सभी लोगों पर FIR होनी चाहिए.”

हलांकि दिलचस्प बात ये है कि भले ही विपक्षी स्वाति के लिए मोर्चा निकाल रहे है लेकिन इस पूरे सीन से खुद स्वाति मालीवाल गायब है. उन्होंने घटना को लेकर कोई भी औपचारिक बयान नहीं दिया है न ही कोई शिकायत दर्ज कराई है.

ये भी पढ़ें-Lok Sabha Election 2024: बिहार में तेजस्वी यादव के रोजगार और बेरोजगारी के जाल में फंस गई है एनडीए, मुद्दे बदलने की कोशिश जारी

Latest news

Related news