Monday, February 26, 2024

Asaduddin Owaisi: अपनी कुर्सी-बचाओ खेल प्रतियोगिता से समय मिल जाये तो थोड़ा काम भी कर लीजिए? AIMIM नेता की हत्या पर ओवैसी ने कसा नीतीश पर तंज

सोमवार रात बिहार के गोपालगंज जिले में AIMIM नेता की हत्या का मामला गरमाने लगा है. AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए पूछा है कि आखिर हमारे ही नेता निशाने पर क्यों हैं.

सिर्फ़ हमारे ही नेता क्यों निशाने पर हैं?

सोमवार को हुई गोपालगंज AIMIM के प्रदेश सचिव और जिला अध्यक्ष अब्दुल सलाम उर्फ असलम मुखिया की हत्या पर सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने एक्स पर पोस्ट किया, “गोपालगंज उपचुनाव में @aimim_national के पूर्व प्रत्याशी सह प्रदेश सचिव अब्दुल सलाम असलम मुखिया की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। अल्लाह से दुआ करता हूँ के उनके परिवार वालों सब्र-ए-जमील अता करे। पिछले साल दिसंबर में हमारे सिवान के जिलाध्यक्ष आरिफ जमाल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।
@NitishKumar अपनी कुर्सी-बचाओ खेल प्रतियोगिता से समय मिल जाये तो थोड़ा काम भी कर लीजिए? सिर्फ़ हमारे ही नेता क्यों निशाने पर हैं? क्या उनके परिवारों को इंसाफ़ मिलेगा?”

फिर बिहार के मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने तोहफा दिया-ओवैसी

हैदराबाद में समाचार एजेंसी एक्स से बात करते हुए AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”नीतीश कुमार एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने तोहफा दिया. गोपालगंज में हमारी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता अब्दुल सलाम की हत्या कर दी गई है… सिवान में भी दो महीने पहले हमारी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता की हत्या कर दी गई थी. ऐसा लग रहा है कि नीतीश कुमार के शासन में कानून व्यवस्था पर कोई नियंत्रण नहीं रह गया है. वहां राजद नहीं बल्कि भाजपा है लेकिन कानून एवं व्यवस्था का मुद्दा अभी भी जारी है. दुर्भाग्य से, सरकार द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है… जिम्मेदारी सरकार की है.”

अज्ञात बदमाशों ने गोली मार की असलम मुखिया की हत्या

जानकारी के मुताबिक सोमवार रात अज्ञात बदमाशों ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) नेता अब्दुल सलाम उर्फ असलम मुखिया को उस वक्त गोली मारी जब वो अपने करीबी मुन्ना के साथ लखनऊ जाने के लिए थावे जंक्शन पर ट्रेन पकड़ने जा रहें थे. घटना गोपालगंज में तुरकाहा पुल के पास एनएच 531 पर हुई. बाइक सवार बदमाशों जिनकी संख्या 2 बताई जा रही है ने अपनी कार रोकी और असलम मुखिया पर गोलियां चलाईं.
घायल असलम मुखिया को गोपालगंज जिला अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई.

गोपालगंज उपचुनाव में एआईएमआईएम के प्रत्याशी थे मुखिया

बिहार के गोपालगंज में एआईएमआईएम नेता अब्दुल सलाम उर्फ असलम मुखिया गोपालगंज उपचुनाव में एआईएमआईएम के प्रत्याशी होने के साथ साथ पार्टी के सह प्रदेश सचिव भी थे और मदरसा इस्लामिया के सचिव भी थें.
पुलिस ने दो संदिग्ध को हिरासत में लिया

गोपालगंज में हुई हत्या के बाद पुलिस की SIT ने इस हत्याकांड में 2 संदिग्धों को हिरासत में लिया है. बताया जा रहा है कि हत्या में इस्तेमाल की गई बाइक बी बरामद कर ली गई है. पुलिस का कहना है कि वो संदिग्धों से पूछताछ कर रही है जल्द ही घटना का खुलासा करेगी.

ये भी पढ़ें-JDU Rajya Sabha: पूर्व मंत्री संजय झा का राज्यसभा जाना तय, जेडीयू-बीजेपी के बीच…

Latest news

Related news