Thursday, April 18, 2024

सड़क पर प्रसव कराने के लिए मजबूर महिला,अमृत महोत्सव कैसे मनायें?: सपा प्रमुख अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश को सरकार उत्तम प्रदेश बनाने में लगी है,खासकर राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था को सुधारने के लिए सरकार लगातार प्रयास करती दिखाई देती है.खुद डिप्टी सीएम जो  स्वास्थ्य मंत्री भी हैं अस्पतालों का औचक निरीक्षण करते दिखाई देते हैं  और तमाम सुधार के दावे करते हैं  लेकिन धरातल पर इन कोशिशों का असर कम ही दिखाई देता है. सपा नेता अखिलेश यादव ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें कहा गया है कि ये महिला सड़क पर प्रसव कराने के लिए मज़बूर हुई.

वीडियो पीलीभीत के महिला जिला चिकित्सालय के बाहर का है.इस वीडियो को शेयर करते हुए सपा  नेता अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार को निशाने पर लिया और स्वास्थ सेवाओं के मामले में सरकार को घेरने की कोशिश की. सपा प्रमुख ने अपने ट्वीट में लिखा –

“भाजपा राज में यूपी के जिला महिला चिकित्सालय के बाहर खुले में प्रसव के लिए मजबूर महिला..ऐसे में कैसे अमृत महोत्व मना सकते हैं हम “

सपा प्रमुख ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि एक महिला सड़क पर कराह रही है और उसके आस पास कई महिलाएं जमा हैं लेकिन अस्पताल का कोई स्टाफ नजर नहीं आ रहा है. आसपास के लोगों की जो आवाजें आ रही है, उससे पता चलता है कि महिला अस्पताल में थी ओर उसे प्रसव से पहले ही अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. हलांकि इस वीडियो और इस में हो रही बातचीत के बारे में हम कोई दावा नहीं करते हैं.इस मामले में अस्पताल का कोई आधिकारिक  बयान अभी सामने नहीं आया है.

ये वीडियो कब का है, इसका पता लगाया जा रहा है लेकिन वीडियो में ये साफ है कि एक महिला का प्रसव स्थानीय महिलाएं सड़क पर करवा रही हैं.इस एक वीडियो ने उत्तर प्रदेश सरकार के चिकित्सा सुविधाओं को लेकर किये जा रहे दावों पर पानी फेर दिया है.इस वीडियो से सरकार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठ रहे हैं.

 

Latest news

Related news