Thursday, April 18, 2024

क्या फिरोजाबाद जैसी घटना की पुनरावृत्ति मैनपुरी में भी कराना चाहते हो? मैनपुरी के एसपी ने ऐसा क्यों कहा

उत्तर प्रदेश पुलिस को क्या और कैसा खाना मिल रहा है इसको लेकर कुछ दिनों पहले एक वीडियो वायरल हुआ था. फिरोजाबाद के इस वीडियो में पुलिस कार्यालय में तैनात सिपाही मनोज कुमार रो-रोकर पानी वाली दाल और जली रोटियां दिखाते हुए खाने की खराब क्वालिटी की शिकायत करते नज़र आए थे. लेकिन तब फिरोजाबाद पुलिस के एक ट्वीट कर मामले की जांच करने के साथ शिकायत करने वाले सिपाही को आदतन अनुशासनहीनता करने वाला बताया दिया था उससे साफ था कि आला अधिकारी मनोज की शिकायत पर सिर्फ लीपा-पोती करने का काम कर रहे थे.
लेकिन इस बार किसी सिपाही ने नहीं बल्कि खुद एसपी साहब मेस की हालात पर नाराज़ होते नज़र आ रहे हैं. घटना उत्तरप्रदेश के मैनपुरी में जिला की है. वीडियो में एसपी कमलेश दीक्षित पुलिस मेस के खाने की खराब क्‍वालिटी पर भड़कते हुए नज़र आ रहे हैं. वीडियो तब बनाया गया जब जिले के एसपी कमलेश दीक्षित पुलिस मेस के भोजन की गुणवत्‍ता और साफ-सफाई का औचक न‍िरीक्षण करने पंहुचे थे.


एसपी साहब का ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. एसपी साहब वीडियो में कभी दाल के पतीले में दाल ढूंढते नजर आ रहे हैं तो कभी कच्‍ची-जली रोटियों को देखते. लेकिन असल गुस्से में तो वो तब नज़र आए जब उन्होंने मेस की रसोई में पड़ी गंदगी देखी. एसपी सहाब के गुस्से का इस बात से अंदाज़ा लगाइये कि वो कर्मचारियों फटकारते हुए ये बोल गए कि ‘क्या फिरोजाबाद जैसी घटना की पुनरावृत्ति मैनपुरी में भी कराना चाहते हो? ऐसा करोगे तो नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा.’

ये भी पढ़ें:https://www.thebharatnow.in/uttar-pradesh/viral-video-of-up-police-complaining-about-bad-food-quality/

एसपी दीक्षित ने मेस में खाना खाने वाले सिपाहियों से भी नाराजगी का इज़हार किया. उन्होंने कहा कि ‘आप लोग क्यों इतना शर्म करते हैं. बताने में आप लोगों को क्या दिक्कत आ रही है. यह दशा है.’
वैसे एसपी दीक्षित के भड़कने के बाद मेस में काम करने वाले कर्मचारियों ने उनसे माफी मांगी और कहा कि अब वहाँ खाने की गुणवत्ता और साफ सफाई दोनों में सुधार करेंगे.
उम्मीद है उत्तर प्रदेश पुलिस के आला अधिकारी और प्रशासन सिपाही मनोज कुमार पर न सही पर अपने अधिकारी कमलेश दीक्षित पर तो भरोसा करेगा और 12-12 घंटे काम करने वाले अपने सिपाहियों के खाने की गुणवत्ता सुधारने की एक ईमानदार कोशिश जरूर करेगा.

 

Latest news

Related news