Saturday, February 24, 2024

Parliament Budget session: मौजूदा सरकार के काम में चौधरी चरण सिंह की झलक-जयंत चौधरी, कांग्रेस पर बसरे पियूष गोयल बोले खड़गे मांगे माफी

शनिवार को राज्य सभा में जमकर हंगामा हुआ. शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह,पीवी नरसिम्हा राव और डॉ. एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न से सम्मानित करने के भारत सरकार के फैसले पर धन्यवाद देने जब आरएलडी नेता और चरण सिंह के पोते जयंत चौधरी बोलने खड़े हुए तो राज्यसभा में विपक्ष के नेता और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने इसपर आपत्ति जताते हुए सभापति से पूछा कि उन्हें किस रुल के तहत बोलने का मौका दिया जा रहा है. जिसपर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने अपत्ति जताते हुए उनसे माफी मांगने की बात की. इतना ही नहीं खुद सभापति जगदीश धनकड़ ने भी खड़गे पर चौधरी चरण सिंह के अपमान का आरोप लगाया.

नेता प्रतिपक्ष को मांफी मांगनी चाहिए- पीयूष गोयल

नेता प्रतिपक्ष खड़गे के जयंत चौधरी को लेकर पूछे सवाल पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, “ये हमारे लिए गर्व का क्षण है कि पीएम मोदी ने चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न देकर सम्मान दिया…कांग्रेस को आज जश्न मनाना चाहिए था कि उनके पूर्व पीएम को पीएम मोदी ने सम्मानित किया है। लेकिन दुर्भाग्य ये है कि उनके सरनेम में गांधी नहीं था नेहरू, गांधी होता तो चल जाता…वह स्वयं को भारत रत्न देने में लगे हुए हैं”
उन्होंने कहा “आज पूरा देश उनका गुणगान कर रहा है लेकिन नेता प्रतिपक्ष को चौधरी चरण सिंह, डॉ. एमएस स्वामीनाथन और पीवी नरसिम्हा राव गारू का अपमान करने के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए.”

सभापति ने भी खड़गे पर लगाया चरण सिंह के अपमान का आरोप

नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और अन्य कांग्रेस नेताओं से राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ ने कहा, “आपने चौधरी चरण सिंह का अपमान किया, आपने उनकी विरासत का अपमान किया। भारत रत्न चौधरी चरण सिंह के लिए आपके पास समय नहीं था। आज के दिन आप देश के हर किसान को आहत कर रहे हैं…”

खरगे के टोके जाने पर क्या बोले जयंत चौधरी

RLD प्रमुख जयंत चौधरी ने कहा, “भारत रत्न जब दिया जाता है तो इसी समय दिया जाता है. क्या इनका दावा और पेशकश ये है कि जिस साल में चुनाव है उस साल सरकार किसी को भारत रत्न ना दे? जो लोग समय पर सवाल कर रहे हैं तो यही समय है भारत रत्न देने का। सरकार, कोई राजनीतिक व्यक्ति जब सत्ता में होती है तो किस आधार पर फैसले लेती है? राजनीतिक लाभ कहां मिलेगा। …तमाम सरकारें आई और चली गई किसी ने नहीं दिया।”

इनकी कार्यशैली में भी चौधरी चरण सिंह की विचारों की झलक है-जयंत चौधरी

इससे पहले RLD प्रमुख जयंत चौधरी ने राज्यसभा में मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा, “जो आज सरकार है इनकी कार्यशैली में भी चौधरी चरण सिंह की विचारों की झलक है..एक जमीनी सरकार ही चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दे सकती है.”

RLD प्रमुख जयंत चौधरी ने राज्यसभा में कहा, “चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न से सम्मानित करने का फैसला बहुत बड़ा फैसला है…कल इस घोषणा के बाद लोगों ने दिवाली मनाई…कल किसानों ने सीपी में मिठाइयां बांटी। इससे यही पता चलता है कि यह फैसला सिर्फ उनके परिवार तक ही सीमित नहीं था, बल्कि किसानों को मजबूत करने वाला फैसला है.”

ये भी पढ़ें-Bihar Politics: लालू यादव का संदेश लेकर जीतन राम मांझी से मिलने पहुंचे माले…

Latest news

Related news