Sunday, June 16, 2024

बरेली में पुलिस का कमाल,पूरी टीम ने मिलकर पकड़ा बकरी चोर

उत्तर प्रदेश में सरकार बदल गई निज़ाम नहीं बदला. पहले पुलिस भैंस ढूंढती थी अब बकरी ढूंढने में पूरा महकमा अपनी उर्जा से लगा रही है. अगर आप सोच रहे है कि यूपी में अपराध खत्म हो गया है इसलिए पुलिस समाज सेवा में लगी है तो ऐसा कुछ भी नहीं है. बलात्कार, हत्या, लूट, डकैती हर अपराध प्रदेश में हो रहा है लेकिन शायद ये यूपी पुलिस का जनवारों के लिए प्रेम है जो वो सबसे तत्परता से उन्हें ढूंढने का काम करती है.

उत्तर प्रदेश में चोरी डकैती जैसे गंभीर अपराध करने वाले भले ही कानून के शिकंजे  से बचने में सफल हो जायें लेकिन बकरी चोरी करने वाले कानून के शिकंजे से नहीं बच पाते हैं. यकीन ना हो तो आप रामपुर विधायक आजम खान का मामला याद कर सकते हैं.सपा सरकार में नंबर दो रहे रामपुर के विधायक आजम खान  बकरी चोरी और कुछ अन्य मामलों में लंबी जेल की सजा काट चुके हैं. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट तक को दखल देना पड़ा.तब कहीं जाकर आजम खान को जमानत मिली.

अब जानिए कि हमने यूपी पुलिस की शान में ये भूमिका क्यों बांधी, तो मामला उत्तर प्रदेश के बरेली का है. जहां यूपी पुलिस ने बेहतरीन काम करते हुए एक शख्स का बकरा और बकरी चोरी को गंभीरता से लेते हुए, कड़ी मशक्कत की, जी जान लगा दिया. अब जब पुलिस ठान ले तो चोरों का बचना मुश्किल ही होता है. तो इस मामले में भी पुलिस को कामयाबी हाथ लगी और उसने जीशान और आशिक नाम के दो चोरों को गिरफ्तार कर लिया.

अब इतनी बड़ी सफलता हाथ लगी थी तो शाबाशी तो मिलनी ही चाहिए. पुलिस ने दो चोरों की गिरफ्तारी की ख़बर मीडिया को प्रेस नोट जारी कर दी. जो कुछ इस प्रकार था. “श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद बरेली के द्वारा चलाये जा रहे अभियान के क्रम में श्रीमान पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय के निर्देशन एवं श्रीमान क्षेत्राधिकार महोदय के कुशल पर्यवेक्षक में दिनांक 02.09.2022 को कोतवाली बहेड़ी के प्रभारी निरीक्षक सतेन्द्र भड़ाना के नेतृत्व में उ0नि0 बृजपाल सिंह मय हमराही हे0का0 871 मुकुल प्रताप, का0 46 विजयपाल सिंह के द्वारा अभियुक्तगण 1. जीशान पुत्र बाबू उम्र 20 वर्ष 2. आशिक पुत्र बाबू उम्र 21 वर्ष निवासीगण मो0 अब्बास नगर कस्बा व थाना बहेडी  जिला बरेली सम्बन्धित मु0अ0स0 696/2022 धारा 379/411 भादवि को एक अदद बकरा व एक बकरी, एक मोटर साइकिल न0 UP 25 AF 9286 अपाचे  को मिर्जापुर थाना बहेड़ी के पास बन्द क्रेशर के पास समय करीब 20.25 बजे गिरफ्तार किया गया. अभियोग से सम्बन्धित बरामदगी के आधार पर अभियोग में धारा 411 भादवि की वृद्धि की गयी है।“

प्रेस नोट पढ़ने के बाद आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं कि उत्तर प्रदेश पुलिस अपने काम को लेकर कितनी गंभीर है और उसे अपने पर कितना भरोसा है. तभी तो पुलिस ने आरोपी को बिना कचहरी कोर्ट के बकरी चोरी के आरोपी को FIR लिखते हुए ही अभियुक्त बता दिया. तो मुस्कुराते रहिये कि आप उत्तर प्रदेश में हैं.

Latest news

Related news