Thursday, February 22, 2024

मुख्तार अंसारी के करीबी उमेश सिंह की 46 करोड़ 71 लाख की सम्पत्ति कुर्क

मऊ : ज़िले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 8 सितंबर को संभावित आगमन के ठीक पहले माफिया पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी के एक और क़रीबी पर प्रशासनिक कहर बरपा. जिलाधिकारी अरुण कुमार ने गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए अभियुक्त उमेश सिंह, पुत्र स्वर्गीय रामवृक्ष की अपने व अपनी पत्नी शीला के नाम ख़रीदी गई ज़मीन और मकान को मंगलवार को कुर्क करने का आदेश जारी किया.

उमेश सिंह ने मौजा भुजौटी तहसील सदर में स्थित आराजी संख्या 13 में रकबा 1530.9 वर्ग मीटर, आराजी संख्या 17 के रकबा 597 कड़ी में से 298.5 कड़ी एवं आराजी नंबर 17 में ही ओमप्रकाश से क्रय की है. जिसका रकबा 56 कड़ी एवं पत्नी के नाम से क्रय की गई भूमि रकबा 245 कड़ी एवं इन दोनों आराजी संख्याओं पर निर्मित दो मंजिले पक्के भवन को गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए कुर्क करने का फरमान जारी हुआ.

जमीनों एवं उन पर निर्मित दो मंजिला पक्के मकानों का बाजार मूल्य लगभग 46करोड़ 71लाख रुपये है. अभियुक्त उमेश सिंह पुत्र स्वर्गीय रामवृक्ष सिंह के खिलाफ जनपद के विभिन्न थानों में कई आपराधिक मुकदमे दर्ज़ हैं. उमेश सिंह का मुख्तार अंसारी से बेहद क़रीबी संबंध रहा है. मौजा भुजौटी स्थित जमीन एवं दो मंजिले मकान अवैध तरीके से अर्जित धन द्वारा तैयार किए गए थे.

जिलाधिकारी ने बताया कि शासन की मंशा के अनुरूप जनपद में गैंगस्टर एक्ट के अंतर्गत अवैध तरीके से अर्जित किए गए धन के प्रयोग से निर्मित चल/अचल संपत्तियों के विरुद्ध अभियान चलाकर कार्यवाही करने का कार्य किया जा रहा है.डीएम ने कहा कि जिन्होंने अवैध तरीके से अर्जित धन से बड़ी संख्या में चल एवं अचल संपत्तियां खड़ी की है, उनका चिन्हीकरण कर उनके खिलाफ भी कुर्की की कार्रवाई की जाएगी.

Latest news

Related news