Friday, June 21, 2024

मंदिर की छत पर चल रही थी दारु पार्टी, गाँववालों ने नशेड़ियों को जमकर पीटा, वायरल हुआ वीडियो

राजस्थान की झील नगरी कहे जाने वाली उदयपुर से एक बेहद शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है. जहाँ मंदिर की छत्त पर शराब पार्टी करने वाले नशेड़ियों को स्थानीय निवासियों ने जमकर पीटा. मामले में शराब पार्टी करने वालों में समिति के अध्यक्ष समेत तीन लोग शामिल थे जिनकी आसपास के लोगों ने जमकर पिटाई की.

मंदिर की छत पर चल रही थी शराब पार्टी, गुस्साए लोगों ने नशेड़ियों को जमकर पीटा

दरअसल उदयपुर शहर के घंटाघर थाना क्षेत्र के जलबुर्ज में रात को जबरदस्त हंगामा देखने को मिला. हंगामे की वजह थी मंदिर परिसर में छत पर शराब पार्टी. जिसका स्थानीय निवासियों ने विरोध करते हुए जमकर मारपीट की गई। शराब पार्टी करने वालों में जगदीश मंदिर के धर्मा उत्सव समिति के अध्यक्ष दिनेश मकवाना भी मौजूद थे. इस पूरे मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल है. ये घटना तब हुई जब रविवार रात को जगन्नाथ रथ यात्रा की सफलता पर प्रसादी का आयोजन किया गया था. जबकि प्रसादी के आयोजन की आड़ में वहां कुछ और ही चल रहा था .
जब समिति अध्यक्ष और उसके साथियों की ये हरकत दूसरे लोगों ने देखी तो सभी लोगों का ग़ुस्सा भड़क गया और 10-12 लोगों ने गाली गलौच शुरु कर दी. समारोह में मौजूद सभी लोगों ने शराब पार्टी का विरोध किया और विरोध हाथापाई तक पहुँच गया.
घटना का जो वीडियो सामने आया है उसमें देखा जा सकता है कि वहां कुछ युवक एक छत पर शराब पी रहे हैं.इस बाच वहां कुछ और युवक पहुंच जाते हैं और सवा करते हैं कि मंदिर में शराब पार्टी कैसे हो रही है.इन्ही सवाल जवाब के बीच माहोल गर्म हो गया और मामला मारपीट तक पहुंच गया.
सूचना मिलने पर घंटाघर थाना पुलिस मौके पर पहुंची. घंटाघर थाना अधिकारी श्याम सिंह ने बताया कि फिलहाल दोनों पक्षों की ओर से पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया गया है, और जांच शुरू कर दी गई है. वायरल वीडियो की भी जांच की जारही है उसी आधार पर तय किया जायेगा की आखिर पूरा मामला है क्या और दोषी कौन है?
वैसे ये कोई अकेला ऐसा मामला नहीं हैं, जहाँ इस तरह हिन्दू धार्मिक स्थल से जुड़ी आस्था को शर्मसार किया गया हो. अभी हाल ही में इसी तरह का एक वीडियो उत्तर प्रदेश की संगम नगरी प्रयागराज से भी सामने आया था. जहाँ कुछ लोग गंगा नदी के बीच नौका में चिकन पार्टी करते नज़र आये थे. वीडियो वायरल होने के बाद मामला दर्ज किया गया था और तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया .
इस तरह की शर्मनाक खबरें ना केवल लोगों की आस्था को ठेस पहुँचाती हैं बल्कि इलाके में अशांति भी फैलाती है

Latest news

Related news