Tuesday, June 18, 2024

Sahara Group: सुब्रत रॉय के बाद कैसे मिलेगा निवेशकों का पैसा, प्रॉपर्टी को लेकर भी उठे सवाल

सहारा समूह:सुब्रत रॉय जो सहारा ग्रुप Sahara Group के प्रमुख थे, उनके निधन के बाद पूंजी बाजार नियामक सेबी के खाते में पड़ी 25,000 करोड़ रुपये से अधिक की अवितरित धनराशि फिर से चर्चा का विषय बन गई है. इसके बाद सहारा के लाखों निवेशकों के मन में बस एक ही सवाल उठ रहा है कि अब उनके पैसों का क्या होगा? क्या सहारा में फंसा पैसा उन्हें मिल पाएगा या डूब जाएगा?

Sahara Group से 25 हजार करोड़ रुपये से अधिक वसूल किए गए थे

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा है,” 2.5 लाख निवेशकों को लगभग ₹ 230 करोड़ का भुगतान हो चुका है. पोर्टल पर नए रजिस्ट्रेशन अभी भी हो रहे हैं, इसलिए यह कहना जल्दबाजी होगी कि सेबी से पैसा भारत की संचित निधि में ट्रासंफर कर दिया जाएगा. सहारा समूह से करीब 25 हजार करोड़ रुपये से अधिक वसूल किए गए थे. इसके बाद 31 मार्च 2023 तक करीब 138 करोड़ रुपये ही निवेशकों को लौटाए गए थे. इसके लिए सरकार ने पोर्टल भी शुरू किया था, बाकी बचा हुआ पैसा सरकारी बैंक में जमा करवाया गया था.

वहीं, सुप्रीम कोर्ट ने व्यवस्था दी थी कि अगर सत्यापन के बाद भी निवेशकों की पहचान नहीं होती है तो सरकार के पास इस तरह के कोष को जमा कर दिया जाएगा. सेबी ने 2011 में सहारा समूह की दो कंपनियों सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्पोरेशन लिमिटेड और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड  को वैकल्पिक रूप से पूर्ण परिवर्तनीय बॉन्ड के रूप में पहचाने जाने वाले कुछ बॉन्डों के जरिए करीब तीन करोड़ निवेशकों से जुटाए गए धन को वापस करने का आदेश दिया था.

कितनी सम्पत्ति छोड़कर गए सुब्रत रॉय

सुब्रत रॉय जिन्हें सहाराश्री के नाम से भी जाना जाता है, उनके पास 259900 करोड़ से अधिक की निजी संपत्ति थी. उनके पास करीब 30970 एकड़ का लैंड बैंक रहा है. इसके अलावा देशभर में 5000 से ऑफिस यूनिट्स है. इसके अलावा उनके पास लखनऊ का सहारा शहर, सहारा के ऑफिस, सहारा मॉल जैसी संपत्तियां है. कंपनी की वेबसाइट के मुताबिक सहारा ग्रुप के पास 9 करोड़ निवेशक हैं. देशभर के अलग-अलग इलाके में उनके पास अरबों रुपए की जमीन और होटल हैं.

ये भी पढ़ें-Cricket World cup: हार के बाद भी हो रही है टीम इंडिया की तारीफ़, कपिल देव ने कहा-हम एक चैंपियन टीम है. सर ऊंचा…

 

Latest news

Related news