Sunday, June 16, 2024

पटना:कांस्टेबल का अपहरण मामला निकला झूठा,छपरा लूटकांड में हुई थी गिरफ्तारी

बिहार पुलिस के जवान के अपहरण का मामला निकला झूठा

शनिवार सुबह से जिस पुलिस कांस्टेबल के अपहलण को लेकर मीडिया में मामला गर्म था, उस कांस्टेबल के अपहरण का मामला झूठा निकला है. कंस्टेबल शशि भूषण सिंह को बदमाशों ने नहीं बल्कि बिहार पुलिस ने ही उनके घर के बाहर से गिरफ्तार किया था. बिहार पुलिस ने शनिवार को छपरा लूटकांड में शामिल दो पुलिसकर्मी को गिरफ्तार किया गया,चूंकि छपरा पुलिस की स्पेशल टीम ने सादे लिबास में काफी गुप्त रूप से दोनों सिपाही को रूपसपुर थाना क्षेत्र के महुआ बाग इलाके गिरफ्तार करके ले गई थी इसलिए इस गिरफ्तारी के बाद बीएमपी जवान के अपहरण की खबर फैल गई. रविवार को जब पटना पुलिस को इनकी गिरफ्तारी की सूचना मिली तो सच्चाई सामने आई.

छपरा में व्यापारी से लूटपाट के मामले में शामिल था बीएमपी5 का जवान 

रूपसपुर थाना क्षेत्र से बीएमपी 5 के एक जवान शशिभूषण सिंह के अपहरण की खबर शानिवार को सामने आई थी. बीएमपी जवान के अपहरण होने की सूचना मिलते हैं ही पुलिस महकमे में हलचल मच गई थी. बीएमपी जवान शशि के परिवार वालों ने पुलिस को सूचना दी कि वह घर नहीं आए हैं. उसके बाद पुलिस ने जब शशि की खोजबीन शुरू की तो एक सीसीटीवी विजुअल सामने आया. इसमें साफ तौर से देखा गया कि एक सफेद रंग की बोलेरो पर सवार कुछ लोग शशि को बोलेरो में बैठा कर ले जा रहे हैं. सीसीटीवी फुटेज के सामने आने के बाद रूपसपुर थाना इस पूरे मामले की जांच में जुट गई. रविवार की सुबह इस मामले में एक बड़ी सच्चाई सामने आई है. दरअसल, रूपसपुर थाना क्षेत्र के महुआ बाग इलाके में रहने वाले बीएमपी के जवान शशि भूषण सिंह और उसका एक साथी सिपाही पंकज छपरा के सोना लूट कांड मामले में शामिल था और इसी मामले में शनिवार को छपरा से पटना पहुंची स्पेशल टीम की पुलिस ने इन दोनों को गिरफ्तार किया है .

अपने एक साथी सिपाही के साथ मिलकर की थी लूटपाट

बीते 5 सितंबर को छपरा के भगवान बाजार इलाके में जेल गेट से महज 500 कदम की दूरी पर उत्तर प्रदेश के बरेली के एक स्वर्ण व्यवसाई से 60 लाख रुपए के जेवरात लूट लिये गए थे. इस मामले में छपरा की स्पेशल पुलिस की टीम ने पटना पुलिस की मदद से शशि को रूपसपुर थाना क्षेत्र के महुआ बाग इलाके से गिरफ्तार किया है और शशि की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने इस मामले में पटना और उसके आसपास के जिलों में भी छापेमारी की इस दौरान पुलिस को लूटे गए सोने की बड़ी खेप बरामद हुई है.

पत्नी अपहरण का मामला दर्ज कराने पहुंची थी थाना

शनिवार को सादे लिबास में छपरा से पटना पहुंची छपरा पुलिस की स्पेशल टीम ने जब सिपाही शशि भूषण को गिरफ्तार किया तो उसके अपहरण होने की अफवाह उड़ गई. सिपाही की पत्नी ने पटना के रूपसपुर थाने में अपने पति के अपहरण का मामला दर्ज करवाने पहुंची. हालांकि शशि की पत्नी की कंप्लेन के बाद इस मामले की छानबीन में जुटी पुलिस के सामने देर रात तक यह मामला सामने आया है.

Latest news

Related news