Saturday, April 13, 2024

नीतीश कुमार की फिसली जुबान ?

पटना में एक कार्यक्रम के दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ऐसी बात कह दी कि सबके कान खड़े हो गये. लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री कहकर संबोधित किया.इतना सुनते ही वहां बैठे लोग भी हैरान रह गये.आमतौर पर राजनेताओं की जुबान इतनी आसानी से नहीं फिसलती है.सीएम का ये कहना था कि चर्चाओं ने जोर पकड़ लिया.

दरअसल नव नियुक्त पशु चिकित्सा पदाधिकारी एवं मत्स्य विकास पदाधिकारियों के बीच नियुक्ति पत्र का वितरण किया गया. पटना के ज्ञान भवन में यह कार्यक्रम आयोजित हुआ.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में यह कार्यक्रम हुआ जिसमें उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग के मंत्री आफाक आलम भी मौजूद थे. जब सीएम नीतीश मंच पर पहुंचे और लोगों को संबोधित करने लगे तभी उनकी जुबान से उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव  की जगह मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव निकल गया.

मीडिया से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आगे की रणनीति पर चर्चा की कहा कि अब वे पूर्णिया में रैली करने वाले है. पूर्णिया में रैली कर एक-एक चीजों को देखेंगे. पूर्णिया में क्या-क्या काम हुआ यह देखेंगे और बिहार के विकास की चर्चा करेंगे. वहीं सोनिया से मुलाकात पर कहा कि हम और लालूजी उनसे मिलने के लिए साथ गये थे. कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद का चुनाव होना है. चुनाव के बाद हम सब मिलकर कोई फैसला लेंगे.

वहीं मंच से संबोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि बेरोजगारी कैसे दूर हो इस पर हमलोग काम कर रहे हैं. हर विभाग में पदों को भरने का निर्देश दिया गया है. जिन युवाओं के पास डिग्री है उन्हें हम रोजगार भी दे रहे हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री ही नहीं बल्कि हर विभाग के लीडर भी हैं. मुख्यमंत्री का विजन क्लियर है. कौन सा ऐसा फील्ड नहीं है जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में लोग काम नहीं कर रहे. सीएम नीतीश कुमार कोई भी काम में पीछे नहीं हटे.

केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलना चाहिए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार इसकी मांग कर रहे हैं. खुद पीएम मोदी लगातार कहते हैं कि जब तक बिहार आगे नहीं बढ़ेगा तब तक देश आगे नहीं बढ़ सकता. बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की घोषणा तो पीएम मोदी पहले ही कर चुके है, 8 साल से वे देश के प्रधानमंत्री हैं लेकिन आज तक बिहार को विशेष पैकेज नहीं मिला.

तेजस्वी ने कहा कि अभी गृहमंत्री अमित शाह पूर्णिया आए हुए थे तब लोग इस आस में थे कि वे कुछ बड़ा ऐलान करेंगे. बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने को लेकर बात करेंगे लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ.खैर बिहार के लोग समझदार हैं वो सब जानते हैं. देश में इतनी महंगाई है, देशभर में 53 फ़ीसदी गरीबों का आय कम है. 30 वर्षों में सबसे ज्यादा लोगों की आय में कमी आई है. देश में बेरोजगारी का आलम है यह सब जनता देख रही है.

तेजस्वी ने कहा कि हर नौजवान का सपना होता है कि रोजगार पाना. नियुक्ति पत्र मिला तो समझ जाइए कि आपका सपना साकार हो गया. नीतीश कुमार को बधाई देते हुए तेजस्वी ने कहा कि आप इसी तरह हमें लीड करते रहिए और हम वादा करते हैं कि अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाएंगे. हमें पूरा विश्वास है कि जो कमिटमेंट हमने किया है वह मिलकर पूरा करेंगे. हम जुमला पार्टी नहीं है जो बोलते हैं वह करके दिखाते हैं.

वहीं मंच से संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आज सिर्फ नियुक्ति पत्र ही नहीं बल्कि कहां पोस्टिंग होगा यह भी पता चल जाएगा. जिन लोगों की नियुक्ति अभी नहीं हुई है उनकी भी नियुक्ति बहुत जल्द हो जाएगी. नियुक्ति की प्रक्रिया बड़ी संख्या में शुरू की गयी है. बहुत देर नहीं लगेगी हर रिक्त पदों को जल्द भरा जाएगा. हर चीज का विकास होता जा रहा है. हम लोग जितना काम करते हैं सबको ध्यान में रखिएगा. जो पढ़ना चाहता है उसे पढ़ाने का काम किया है. पहले लोग आते थे एडमिशन लेकर लौट जाते थे लेकिन आज कितना विकास हुआ है. सीएम नीतीश ने कहा कि जब परिवार की आमदनी बढ़ेगी तो बाल बच्चा को भी आगे बढ़ाएंगे. महिलाओं के शिक्षित होते ही प्रजनन दर घट जाएगा. हमने तो यह निर्देश दिया है कि कौन-कौन से जगह पर लड़कियां कम पढ़ रही हैं उस जगह को चिन्हित करे.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव ने बिहार में रोजगार की मांग को जल्द से जल्द पूरा करने की बात कही,लेकिन आज सीएम के भाषण के बाद इस बात की चर्चा ज्यादा रही कि सीएम नीतीश कुमार ने तेजस्वी के लिए जो कहा वो केवल जुबान का फिसलना था या कोई सोची समझी रणनीति,क्योंकि 2024 के लिए प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने के लिए नीतीश कुमार जी जान से लगे हैं.जाहिर अगर वो केंद्र की ओर रुख करते हैं तो बिहार में कोई उनका उत्तराधिकारी होगा.

 

Latest news

Related news