Saturday, July 20, 2024

वाराणसी: ज्ञानवापी मस्जिद मामले में मुस्लिम पक्ष जाएगा हाई कोर्ट

ज्ञानवापी श्रृंगार गौरी विवाद मामले में फैसला सुनाते हुए ज़िला जज ए.के. विश्वेश की एकल पीठ ने कहा कि मामला सुनवाई योग्य है. कोर्ट ने अपने फैसले में ज्ञानवापी परिसर स्थित श्रृंगार गौरी के नियमित दर्शन पूजन की मांग वाली याचिका को सुनवाई योग्य माना है.इस मामले में मुस्लिम पक्ष ने अदालत में कहा था कि ज्ञानवापी मस्जिद वक्फ की संपत्ति है, इसलिए अदालत को इस मामले की सुनवाई का अधिकार नहीं है. कोर्ट परिसर से बाहर आकर हिंदू पक्ष के वकील विष्णु शंकर जैन ने कहा कि कोर्ट ने हमारी बहस को मान लिया है. मुस्लिम पक्ष के आवेदन को रद्द कर दिया है. कोर्ट ने कहा है कि याचिका सुनवाई योग्य है. अब इस मामले की अगली सुनवाई 22 सितंबर को होगी
हिंदू पक्ष के हक में आया फैसला
याचिकाकर्ता सोहन लाल आर्य ने कोर्ट के फैसले पर कहा कि ये हिंदू समुदाय की जीत है. अगली सुनवाई 22 सितंबर को है. आज का दिन ज्ञानवापी मंदिर के लिए शिलान्यास का दिन है. हम लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करते हैं.
वही बीजेपी सरकार में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने फैसले का स्वागत करते हुए कहा-“हम फैसले का सम्मान करते हैं, हम ज्ञानवापी का भी सम्मान करते हैं। अगली सुनवाई में भी हमें कानून पर भरोसा है। हम कानून का सम्मान करते हैं और कानून के साथ हैं”
मुस्लिम पक्ष जाएगा हाई कोर्ट
ज्ञानवापी श्रृंगार गौरी मामले पर अदालत से झटका मिलने के बाद मुस्लिम पक्ष ने बड़ा फैसला किया है. मुस्लिम पक्ष अब हाईकोर्ट का रुख करेगा. इस फैसले के बाद मौलाना खालिद राशिद ने कहा- “बाबरी मस्जिद के जजमेंट के दौरान वरशिप एक्ट का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने जो बातें कही थी उससे यह लगने लगा था कि अब देश में मंदिर-मस्जिद का मसला खत्म हो गया है, लेकिन उसके बावजूद भी इस तरीके मुद्दे आ रहे हैं.”

Latest news

Related news