Sunday, May 26, 2024

आजादी आंदोलन के सिपाहियों की छवि धूमिल करने के लिए  ED का दुरुपयोग

नेशनल हेराल्ड के दफ्तरों में पड़ रहा छापे के बाद कांग्रेस नेता अधीर रंजन का सरकार पर हमला

कांग्रेस नेता अधीर रंजन ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप  लगाया कि  सरकार विपक्ष और विपक्षी दलों के द्वारा बनाई गई सरकारों के अस्थिर करने के लिए केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी का दुरुपयोग कर रही है. हमारे ख़िलाफ़ ही नहीं देश के हर विपक्षी पार्टी के ख़िलाफ़ ED का इस्तेमाल सरकारों को अस्थिर करने में हो रहा है.आज ED सरकार का औज़ार बन गई है जिससे वह विपक्षी पार्टियों को नेस्तनाबूत करना चाहती है. नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि देश विपक्ष मुक्त हो जाए.

नेशनल हेराल्ड के दफ्तरों पर पड़ रहे छापे का का जिक्र करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल, रफी अहमद किदवई आदि ने मिलकर नेशनल हेराल्ड की शुरुआत की थी जिससे भारत के लोगों को आज़ादी की जंग में शामिल कर सकें.आज इसे और कांग्रेस की छवी को धूमिल करने के लिए जांच एजेंसी ED का दुरूपयोग किया जा रहा है. नेशनल हेराल्ड ऱौ अपने शीर्ष नेतृत्व को प्रवर्तन निदेशालय द्वारा बार बार बुलाये जाने और सवाल जवाब करने से नाराज कांग्रेस पार्टी ने इतिहास आजादी के आंदोन के जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा ने कभी तिरंगा को माना नहीं था.भाजपा आज़ादी के बाद तिरंगा के खिलाफ थी और यह लोग आज तिरंगा सामने रखकर हिंदुस्तान के आम लोगों को गुमराह कर रहे हैं. हिंदुस्तान के लोग जानते हैं तिरंगा मतलब गांधी.इतिहास गवाह है कि आज़ादी की लड़ाई में भाजपा की क्या भूमिका रही है.

दरअसल नेशलन हेराल्ड – एसोसियेट जर्नल(AJL) का विवाद पिछले कई सालों से चल रहा है और इस मामले में अब तक सोनिया गांधी, राहुल गांधी, मल्लिका अर्जुन खड़गे पवन बंसल जैसे वरिष्ठ नेताओं से पूछताछ हो चुकी है. गांधी परिवार से हो रही पूछताछ का कांग्रेस पार्टी विरोध कर रही है. कांग्रेस  का कहना है कि गांधी परिवार के निशाने पर लेकर उन्हें परेशान किया जा रहा है.

Latest news

Related news