Sunday, July 14, 2024

काशी विश्वनाथ अब खुद करेंगे जनता से ‘मोटा अनाज’ खाने की अपील, जानिये कैसे ?

पूरी दुनिया अब अपने खाने को और ज्यादा पोषित बनाने के लिए मिलेट्स खाद्य पदार्थों की तरफ बढ़ रहे हैं . 2023 के बजट में भी केंद्र सरकार द्वारा मिलेट्स को लेकर काफी ज्यादा ध्यान केंद्रित किया गया. ऐसे में अब मोटा अनाज को बढ़ावा देने के लिए तरह तरह के प्रयास किये जा रहे हैं . कुछ ऐसा ही अनूठा प्रयास किया जा रहा है. काशी विश्वनाथ मंदिर की ओर से.

दरअसल काशी विश्वनाथ मंदिर में भी अब मोटे अनाज को प्रोत्साहित किया जाएगा. सरकार की पहल पर श्री काशी विश्वनाथ धाम में अब मोटे अनाज यानी मिलेट्स से बना हुआ लड्डू प्रसादम के रूप में चढ़ेगा ओर बिकेगा.

इस विषय पर जानकारी देते हुए एक अधिकारी ने बताया कि, ”काशी से निकली बात पूरी दुनिया में पहुंचती है और ‘श्री काशी विश्वनाथ धाम’ के संदेश को दुनिया भर के सनातनी मानते हैं. इसलिए योगी आदित्यनाथ सरकार की पहल पर श्री काशी विश्वनाथ धाम में अब मोटे अनाज का भोग लगा हुआ लड्डू प्रसादम के रूप में बिकने लगा है.

श्रीअन्न प्रसादम बना रही स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष सुनीता जायसवाल ने बताया कि बाजरा, गुड़, तिल, काजू, बादाम, शुद्ध घी, खोआ से श्रीअन्न प्रसादम बनाया जा रहा है. अभी 100 व 200 ग्राम के लड्डू के पैकेट बाबा के दरबार में प्रसाद स्वरुप बिक्री के लिए रखा जा रहा है.

साल 2023 को संयुक्त राष्ट्र संघ ‘मोटे अनाज दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा कर चुका है. ऐसे में मिलेटस कई तरह के पोषक तत्वों से युक्त होता है, जिसे खाने की अपील प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरी दुनिया से कर रहे हैं. यहाँ तक की अपने बजट में भी मिलेट्स के लिए कुछ ख़ास लेकर आये. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोटे अनाज का नाम श्रीअन्न करते हुए इसके पोषण तत्वों के कारण लोगों से अपने थाली में शामिल करने की अपील की है. वहीं योगी साकार ने भी इसे बढ़ावा देने के लिए बजट में इसके लिए अलग से प्रावधान शामिल किये हैं.

Latest news

Related news