Saturday, February 24, 2024

60 साल बाद Davis cup के लिए पाकिस्तान जायेगी भारतीय टीम, सरकार ने दी मंजूरी

नई दिल्ली:भारत की डेविस कप Davis cup टीम पाकिस्तान की यात्रा करने जा रही है.एक तरफ जहां भारत सरकार ने अपनी डेविस कप टीम को पाकिस्तान जाने की मंजूरी दी है,वहीं पाकिस्तान उच्च आयोग ने भारतीय डेविस कप टीम के खिलाड़ी और भारत से आने वाले स्टाफ के लिए वीजा जारी कर दिया. करीब 60 साल बाद भारतीय टीम डेविस कप मैच के लिए पाकिस्तान जा रही है.

Davis cup का मैच इस्लामाबाद में निर्धारित

भारत-पाकिस्तान के बीच डेविस कप में वर्ल्ड ग्रुप-1 मैच तीन और चार फरवरी को इस्लामाबाद में निर्धारित है. अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ ने इस मैच को किसी तीसरे देश में ट्रांसफर करने की रिक्वेस्ट को खारिज कर दिया था.इसके बाद अखिल भारतीय टेनिस संघ ने सरकार से अपनी टीम को पाकिस्तान की यात्रा करने देने की मंजूरी दी थी,अगर भारतीय टीम दौरे पर नहीं जाती तो अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ पाकिस्तान को वॉकओवर दे सकता था. साल 1964 में भारतीय डेविस कप टीम पाकिस्तान गई थी.इस दौरान उसने पाकिस्तान को 4-0 से हरा दिया था .वही साल 2019 में दोनों टीमों का डेविस कप मुकाबला कजाकिस्तान ट्रांसफर कर दिया गया था.

भारतीय टीम पाकिस्तान रवाना हो सकती है

उस वक्त अखिल भारतीय टेनिस संघ ने राजनीतिक तनाव का हवाला देते हुए अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ से फेरबदल करने की सिफारिश की थी. अब आईटीएफ ने इस अनुरोध को स्वीकार कर लिया था.उम्मीद जताई जा रही है कि भारतीय टीम पाकिस्तान रवाना हो सकती है.

 कौन कौन खिलाड़ी जायेंगे पाकिस्तान ? 

संभावना है कि रामकुमार रामनाथन और एन श्री राम बालाजी एकल मुकाबला खेलेंगे .वहीं सुमित नागल और शशि कुमार मुकुंद ने डेविस कप मुकाबले में भाग नहीं लेने का फैसला किया था.बालाजी ने कहा युगल से एकल में उतरते समय चुनौती बैकहैंड क्रॉस कोर्ट से बचने की होती है. ग्रास कोर्ट मुझे रास आता है और अब जब मैं अकेला खेलता था तो सर्व और वॉली पर ही फोकस रहता था. वही डबल्स मुकाबले में युकी भांवरी का खेलना तय है. यूकी के साथ निकी पुनाचा या साकेत माइनेन को उतारा जा सकता है. वही रोहन बोपन्ना डेविस कप से संन्यास ले चुके हैं.बोपन्ना ने कुछ घंटे पहले ही ऑस्ट्रेलियाई ओपन 2024 में पुरुष डबल्स खिताब जीता है.

Latest news

Related news