Friday, February 23, 2024

अशोक गहलोत आउट! कौन होगा कांग्रेस का नया अध्यक्ष?

कांग्रेस का अगला अध्यक्ष कौन होगा इसको लेकर संस्पेंस बरकार है. अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन 30 अगस्त तक करना है ऐसे में मंगलवार को केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री बताया कि अबतक उन्हें सिर्फ शशि थरूर की तरफ से नामांकन की जानकारी मिली है. उन्होंने कहा कि शशि थरुर के एक प्रतिनिधि ने चुनाव कार्यालय को सूचना दी है कि शशि थरुर 30 सितंबर को 11 बजे सुबह अपना नामांकन दाखिल करेंगे.
मिस्त्री ने आगे बताया कि एआईसीसी के कोषाध्यक्ष पवन कुमार बंसल ने भी दो नामांकन फॉर्म खरीदें हैं. हलांकि एक मीडिया चैनल से बात करते हुए पवन बंसल ने चुनाव लड़ेंगे की बात से इनकार किया. हलांकि नामांकन फार्म खरीदने की उनकी वजह बड़ी बचकाना है, उन्होंने कहा मैंने किसी व्यक्ति के लिए फार्म नहीं खरीदें हैं. उन्होंने कहा मैं चंडीगढ़ जा रहा था तो मैंने 2 फॉर्म खरीद लिए.

क्या गहलोत हो गए है रेस से बाहर?
राजस्थान में जैसे हालात है उसके बाद ऐसा लगता है कि अब गहलोत के लिए अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ना मुश्किल होगा. सबसे पहली बात गहलोत को सोनिया गांधी की पसंद बताया जा रहा था, लेकिन सूत्रों के हवाले से खबर है कि राजस्थान के घटनाक्रम से खुद सोनिया गांधी हैरान है. अपने समर्थकों के मचाए बवाल पर सुना है कि गहलोत ने सफाई देते हुए कहा कि अब उनके समर्थक उनकी भी नहीं सुन रहे हैं. ऐसे में लाज़मी है कि सोनिया गांधी उनके नाम पर फिर विचार करेंगी. वैसे कांग्रेस अध्यक्ष पद का नामांकन करने का एलान कर चुकें गहलोत ने अभी तक नामांकन के लिए फॉम नहीं खरीदा है.

अध्यक्ष के लिए अब किन नामों की है चर्चा
राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं लड़ने बाद से ही कांग्रेस के कुछ नेता प्रियंका गांधी का नाम ले रहे है. हलांकि प्रियंका कई मौकों पर इस बात से इनकार कर चुकीं है. प्रियंका के बाद लोग राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम ले रहे थे पर लगता है अब वो रेस से बाहर हैं. वैसे उनके बाहर होने के साथ ही सचिन पायलट का नाम कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस में जोड़ा जा रहा है. चर्चा ये भी हो रही है कि पायलट को 2018 में मुख्यमंत्री बनाने के वादे को पूरा नहीं कर पाने की सूरत में उन्हें कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया जा सकता है. वैसे इन नामों के अलावा शुरु से दिग्विजय सिंह, मुकुल वासनिक, कमलनाथ, कुमारी शैलजा, मल्लिकार्जुन खड़गे, सुशील कुमार शिंदे का नाम चर्चा में रहा है. इनमें से दिग्विजय सिंह ने एक न्यूज़ चैनल से कहा था कि “मेरे कई दोस्त मुझसे कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने के लिए कह रहे हैं. लेकिन 30 सितंबर तक इंतजार कीजिए, चीजें स्पष्ट हो जाएंगी.” वहीं मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ जब राजस्थान संकट के बीच दिल्ली बुलाए गए तो उन्होंने साफ कर दिया था कि वो अध्यक्ष का चुनाव लड़ने वाले नहीं हैं. बात मल्लिकार्जुन खड़गे की करें तो वो कह चुकें है कि राहुल गांधी के अलावा ऐसा कोई नेता नहीं जो देशभर में जाना पहचाना जाता हो इसलिए राहुल को ही अध्यक्ष पद संभालना होगा. वहीं मुकुल वासनिक का नाम 2019 में पार्टी सुधार के लिए खत लिखने वाले जी-23 में शामिल था. कहा जाता है कि राहुल के इस्तीफे के बाद वो तब अध्यक्ष पद के लिए पार्टी के कई बड़े नेताओं की पसंद भी थे. लेकिन फिलहाल कुमारी शैलजा, मुकुल वासनिक, सुशील कुमार शिंदे जैसे नेताओं ने चुप्पी साध रखी है.

कब होगा अध्यक्ष पद का चुनाव
आपको बता दें कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव की अधिसूचना 22 सितंबर को जारी हुई, उम्मीदवार को 24 से 30 सितंबर के अपना नामांकन करना है. 8 अक्तूबर तक नामांकन वापस लिया जा सकेगा. 17 अक्तूबर को मतदान होगा और 19 अक्तूबर को कांग्रेस के नए अध्यक्ष की घोषणा कर दी जाएगी.

Latest news

Related news