Friday, February 23, 2024

बलात्कार जैसे जघन्य अपराध में भी जाति,धर्म,हैसियत देखकर होती है कार्रवाई-पप्पू यादव

बिहार के समस्तीपुर में पिछले महीने 23 सितंबर को उजियारपुर में एक नाबालिग बच्ची के साथ बलात्कार और निशंस तरीके से हुई हत्या के बाद इलाके के लोगों में गुस्सा है. परिजनों और गांव वालों का आरोप है कि प्रशासन लगातार इस घटना को दबाने और सबूतों के छुपाने में लगा हुआ है. पीड़िता के साथ हुई जघन्य अपराध की छानबीन में पुलिस की तरफ से लापरवाही की गई. इतना ही नहीं सबूतो के साथ छेड़छाड़ और सबूतो को मिटाने के भी आरोप लग रहे हैं.

इस बीच जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव इंसाफ की मांग करने उजियारपुर पहुंचे.पप्पू यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जिस समय देश में शक्ति की देवी की पूजा हो रही है ,उस समय आसुरी शक्तियां बेटियों के साथ जघन्य अपराध कर रही है. बलात्कार जैसे जघन्य अपराधों को भी जाति और धर्म में तौल कर देखा जाता है. गुनाहगारों की हैसियत के हिसाब से उसके लिए कार्रवाई तय होती है. यानी कोई रसूखदार है तो उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती है. पप्पू यादव ने पूरे समाज के सामने कहा कि कोई गरीब है तो समाज ही उसे दबाव डालकर इंसाफ की मांग करने की बजाय पीड़ित को ही दबाने की कोशिश करता है. शासन और प्रशासन मूक दर्शक की तरह देखते रहता है.घटना के दस दिन बाद भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है, क्योंकि आरोपी का संबंध बीजेपी से है. पप्पू यादव ने सवाल उठाया कि अब तक बलात्कारियों औऱ हत्या के आरोपियों पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई है?

घटना से आहत जन अधिकार पार्टी नेता पप्पू यादव ने मीडिया के सामने सवाल तो उठाया लेकिन सबके सामने नाबालिग की पहचान भी उजागर कर दी.

नबालिग के साथ हुए जघन्य अपराध के बाद गांव में तनाव है ,विपक्षी पार्टियां धरना प्रदर्शन कर रही है लेकिन अब तक आरोपियों के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है.

Latest news

Related news