Friday, February 23, 2024

Muzaffarnagar बच्चे की पिटाई मामले में सरकार की कार्रवाई, ‘जाति धर्म के नाम पर इस तरह के कृत्य बर्दाश्त नहीं’

नई दिल्ली  : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर Muzaffarnagar में स्कूल में छोटे बच्चों के साथ मारपीट के मामले में उत्तर प्रदेश सरकार ने कड़ा रुख अख्तियार किया है. योगी सरकार ने आरोपी शिक्षिका तृप्ता त्यागी पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है. मामला सामने आने पर जिलाधिकारी ने कार्रवाई के आदेश दिये और Muzaffarnagar पुलिस ने शिक्षिका तृप्ता त्यागी के खिलाफ FIR दर्ज कर लिया है. आगे की कार्रवाई की जा रही है.

Muzaffarnagar का क्या है मामला ?

य़ूपी के मुजफ्फरनगर के निजी स्कूल चलाने वाली तृप्ता त्यागी नाम की महिला ने स्कूल में एक मासूम बच्चे को केवल इसलिए पिटवाया कि उसने 5 का पहाड़ा (TABLE) याद नहीं किया था. शिक्षिका ने बच्चे को पहाड़ा याद करने के लिए कहा था लेकिन बच्चे की गलती सिर्फ इतनी थी कि वो पहाड़ा याद करके नहीं आया था. महिला शिक्षक ने क्रूरता की हद पार करते हुए 7 साल के बच्चे को उसकी ही उम्र के  दूसरे बच्चों से पिटवाया. बच्चे के धर्म को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की

‘शिक्षिका  ने दूसरे बच्चों को जोर देकर कहा कि उसके चेहरे पर ज्यादा मत मारो, लाल हो जायेगा, कमर पर मारो.. एक बच्चे से कहा कि इतना धीरे क्यों मार रहे हो, जोर से मारो, कमर पर मारो ‘. वीडियो में शिक्षिका किसी से बात करती नजर आ रही है, वो इस बच्चे और उसके धर्म के प्रति आपत्तिजनक शब्द भी बोल रही है. बताया जा रहा है कि मामला 24 अगस्त का है . बच्चे के पिता की शिकायत पर पुलिस ने  शिक्षिका तृप्ता त्यागी के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

Muzaffarnagar  का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

ये पूरा मामला सोशल मीडिया पर वायरल है.  इंटरनेट पर महिला शिक्षक की  क्रूरता वाला वीडियो वायरल होने के बाद राजनीतिक दलों ने आवाज उठाई और सरकार से इसपर कार्रवाई करने की मांग की.  समाजवादी पार्टी के नेता एसटी हसन ने यूपी सरकार से मांग की कि अब सरकार इस महिला शिक्षक पर बुल्डोजर कार्रवाई करे..

यूपी सरकार Muzaffarnagar Teacher मामले को लेकर गंभीर

मामला वायरल होने और शासन के संज्ञान में आने के बाद यूपी सरकार में पर्यटनमंत्री जयवीर सिंह ने कहा कि योगी सरकार किसी भी सूरत में इस तरह की घटना को बर्दाश्त नहीं करेगी.

स्कूल शिक्षा का मंदिर है और शिक्षक इस मंदिर के पुजारी,लेकिन जिस तरह से  मुजफ्फरनगर की इस महिला शिक्षिका ने बच्चे के साथ क्रूरता की है, उसने शिक्षक और छात्र के पवित्र संबंध को कलंकित कर दिया है. हलांकि ये कोई सरकारी स्कूल नहीं है. जिस स्कूल में ये मामला हुआ है ये एक निजी स्कूल है, नेहा पब्लिक स्कूल के नाम से तृप्ता त्यागी नाम की महिला स्कूल चलाती है और तृप्ता त्यागी ही स्कूल की सर्वेसर्वा है.

ये भी पढ़ें :-

UP 1st International trade show की तैयारियां लगभग पूरी,सीएम योगी ने की समीक्षा

Latest news

Related news