Monday, June 17, 2024

गोवा सरकार का फैसला, सोनाली फोगाट मर्डर केस सीबीआई के हवाले

सोनाली फोगाट मर्डर केस की अब सीबीआई जांच होगी. जल्द ही गोवा पुलिस पूरा केस सीबीआई को हैंडओवर कर देगी. आपको बता दें कि इस मामले में सोनाली फोगाट की बेटी यशोधरा फोगाट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी भी लिखी थी और रविवार को भी ये मांग की थी कि सोनाली फोगाट केस की जांच सीबीआई से करवाई जाए.
‘हमें सरकार से कोई उम्मीद नहीं है’
आपको बता दें रविवार को हरियाणा के हिसार में एक खाप पंचायत में सोनाली फोगाट की बेटी यशोधरा फोगाट ने कहा कि हम मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हैं. हमें अब सरकार से कोई उम्मीद नहीं है और ना ही उनसे कोई आश्वासन मिला है.
गौरतलब है कि रविवार को हरियाणा के हिसार में हुई खाप पंचायत में पूरे हरियाणा से खाप नेता मौजूद थे.
बेटी ने लिखी थी पीएम को चिट्ठी
कुछ दिन पहले ही सोनाली फोगाट की बेटी ने पीएम को चिट्ठी लिखी थी. यशोधरा ने चिट्टी में लिखा था, “मेरी मां की हत्या की सीबीआई जांच करवाई जाए.” मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़ित परिवार ने यशोधरा के लिए पुलिस सुरक्षा की मांग भी की है. सोनाली के जाने के बाद उनकी सारी संपत्ति की वारिस बेटी यशोधरा है. ऐसे में परिवार का कहना है कि यशोधरा की जान को खतरा है.
हरियाणा सरकार ने भी की थी सीबीआई जांच की सिफारिश
सोनाली फोगाट की मौत के मामले में हरियाणा सरकार ने भी सीबीआई जांच की सिफारिश की थी. हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा था कि सोनाली फोगाट की मौत की जांच के लिए हरियाणा सरकार ने गोवा के मुख्यमंत्री और सरकार को सीबीआई जांच के लिए पत्र लिखा है. विज ने कहा था इस मामले में जो भी शामिल होंगे उन पर कार्रवाई होगी. गृहमंत्री ने कहा कि सोनाली फोगाट का परिवार सीबीआई जांच की मांग कर रहा है और गम्भीर आरोप भी लगा रहा है. इसलिए हमने गोवा सरकार को पत्र लिखा है. हत्याकांड में बड़े चेहरे शामिल होने की बात सोनाली के परिवार ने सीएम को दिए पत्र में की है. इसलिए हमने सीबीआई जांच के लिए गोवा सरकार से सिफारिश की है.
क्या है पूरा मामला
गोवा के एक रेस्टोरेंट में 23 अगस्त को सोनाली फोगाट की मौत हो गई थी. उन्हें रेस्टोरेंट से अस्पताल पहुंचाया गया था. अस्पताल में डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था. अभी तक इस मामले में गोवा पुलिस ने सोनाली के पीए सुधीर सांगवान और उसके साथ सुखविंदर को गिरफ्तार किया है. वहीं अब गोवा सरकार ने इस मामले को सीबीआई को सौंपने का फैसला कर लिया है.

Latest news

Related news