Saturday, July 20, 2024

दहशत फैलाने के लिए की गई थी फायरिंग,बेगूसराय एसपी ने किया खुलासा

13 सितंबर की शाम बेगूसराय जिले के चार थाना क्षेत्र में अपराधियों के द्वारा गोलीबारी की बड़ी घटना को अंजाम दिया गया था जिसमें 10 लोगों को गोली मारी गई थी, जिनमें एक की मौत हो गई. इस मामले में 3 दिन बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चिन्हित 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बेगूसराय के एसपी योगेंद्र कुमार ने मामले की पूरी जानकारी दी. योगेंद्र कुमार का कहना है कि सबसे पहले युवराज की गिरफ्तारी हुई और उसके बाद निशानदेही पर एक के बाद एक तीन अन्य आरोपियों सुमित ,युवराज और केशव उर्फ नागा को गिरफ्तार कर लिया गया. पूछताछ के दौरान आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. दिन दहाड़े फायरिंग का मकसद इलाके में दहशत फैलाना था.इस गिरफ्तारी में कई टीमें लगी हुई थी.आरोपियों के फोन को भी सर्वेलांस पर रखा गया था.फॉरेंसिक टीम की भी मदद ली गई. आरोपियों की निशानदेही पर अपराध में प्रयुक्त मोटरसाइकिल,दो देसी कट्टे ,उस वक्त पहने गए कपड़े और अन्य सामान बरामद कर लिए गए हैं.

पत्रकारों ने जब पूछा कि गिरफ्तार आरोपी केशव उर्फ नागा के परिजन पुलिस पर झूठे मुकदमे का आरोप लगा रहे हैं तो एसपी ने इस सवाल का कोई जवाब नहीं दिया. इसके अलावा आऱोपियों के राजनीतिक संबंधों पर पूछे गए सवाल का भी कोई जवाब नहीं दिया.

Latest news

Related news