Thursday, February 22, 2024

शराबबंदी वाले बिहार में एक बार फिर से जहरीली शराब का कहर..

खगड़िया जिले के अलौली थाना के अंबा गांव में 24 घंटे के अंदर दो युवक की संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गई है.आज फिर एक युवक शिवा सद की संदेहास्पद स्थिति में मौत हुई है. परिवार वालो का आरोप है कि जहरीली शराब पीने से उसके बेटे की मौत हुई है.बेटा शिवा सदा की जैसे ही तबियत बिगड़ी और उल्टी करने लगा तब मालूम हुआ कि उसने जहरीला शराब पीया था.आनन फानन में इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. मृतक के पिता ने बताया कि दोनो लोग एक ही शराब बिक्रेता से शराब लेकर पीया था और दोनो की मौत हो गई है. एक दिन पहले अंबा गांव में दिलीप शाह नाम के एक युवक की मौत हो गई थी और दोनो की मौत का वजह परिवार वाले जहरीली शराब बता रहें हैं. पुलिस के लोग सीधे सीधे कुछ कहने से बतचे नजर आये.  पुलिस अधिकारियों के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ बताया जा सकता है.स्थानीय ग्रामीणों की मानें तो दो से तीन लोग की हालत गंभीर बनी हुई है और कहीं पर छुपकर इलाज करा रहे हैं. ग्रामीणों का कहना है कि  परिवार वाले जब प्राथमिकी दर्ज करवाने जाते है तो पुलिस मामला दर्ज करने के लिए तैयार नही होती है. वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से आदेश मिलने के बाद ही प्राथमिकी दर्ज तक दर्ज की जाती है. घटना के बाद पुलिस शराब कारोबारियों के खिलाफ छापेमारी की बात कह रही है लेकिन ग्रामीण इसे दिखावा मात्र मान रहे हैं. मृतक के पिता की माने तो जहरीली शराब पीने की वजह से शिव सदा की मौत हुई है. वहीं समाजिक कार्यकर्ता की माने तो दो से तीन और लोग जहरीली शराब पीने से बीमार है और पुलिस प्रशासन के डर से प्राइवेट नर्सिंग होम में इलाज करा रहें हैं. ग्रामीण के मुताबिक पुलिस दबाब बनाती है की बिना पोस्टमार्टम के ही शव का अंतिम संस्कार कर दो.

 

Latest news

Related news