Saturday, February 24, 2024

Pakistan में मतणना के दौरान गड़बड़ी से मचा घमासान,हाफिज सईद का बेटा हारा चुनाव

नई दिल्ली : पाकिस्तान  Pakistan में आम चुनाव के बाद आज मतों की गिनती चल रही है. चुनाव के शुरुआती रुझान में नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग(N) बढ़त बनाती दिख रही थी लेकिन अब मतगणना का रुख इमरान खान #ImranKhanPTI की तरफ मुड़ रहा है.

Pakistan में 265 सीटों पर हुए हैं चुनाव  

पाकिस्तान में 265 सीटों पर हुए मतदान के  लिए मतगणना चल रही है . बहुमत के लिए 133 सीटों की जरुरत हैं.अभी तक के परिणाम के मुताबिक जेल मे बंद इमरान खान के समर्थित उम्मीदवार नवाज शरीफ से आगे निकलते दिखाई दे रहे हैं. 53 सीटों पर रिजल्ट आये हैं, इनमें इनरान खान समर्थित 18 उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है , वहीं 18 सीटें नवाज शरीफ की पार्टी के हिस्से में आई हैं. 15 सीटों पर बिलावल भुट्टों की पार्टी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) ने जीत हासिल की है.

मतगणना के दौरान मचा घमासान 

मतगणना के साथ ही बदल रहे परिणाम से पाकिस्तान में भगदड़ की स्थिति मची हुई है. चुनाव परिणामों में धांधली की खबरें आ रही हैं. इमरान खान की पार्टी PTI ने ट्वीट किया है, जिसमें नवाज शरीफ से सहा है कि कुछ शराफत दिखायें

इमरान खान की बढ़त वाली सीटों पर अब नवाज शरीफ आगे  

खबर आ रही है कि अब तक जिन सीटों पर इमरान खान समर्थित उम्मीवार बढ़ते दिखाई दे रहे थे, अब उन जगहों पर नवाज शरीफ की पार्टी आगे दिखाई दे रही है. पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से ये खबरें है कि निर्वाचन अधिकारी गायब हो रहे हैं. ऐसे मे ये आदेश दिये गये है कि जहां कही भी मतगणना पूरी हो गई है वहां 30 मिनट के अंदर परिणाम जारी किये जाये. हलांकि ये अफरातफरी फाइनल नतीजा आने तक बनी रहेगी

नवाज शरीफ और उनके करीबियों ने अपनी अपनी सीट जीती  

इधर नवाज शरीफ , उनके भाई शहबाज शरीफ , बेटी मरियम नवाज अपनी अपनी सीटों से चुनाव जीत चुके हैं. नवाज शरीफ ने NA130,शहबाज शरीफ ने  PP158  और मरियम नवाज ने PP 159 नंबर की सीट से जीत दर्ज की है. आपको बता दें कि कहा जा रहा है कि इस चुनाव में नवाज शरीफ को पाकिस्तानी सेना का पूरा समर्थन प्राप्त है. नवाज शरीफ के लिए पाकिस्तान सेना की तरफ से हर मदद मिल रही है.

आतंकी हाफिज सईद के बेटा तल्हा सईद हारा

पाकिस्तान  में इस बार चुनाव में एक बड़ा ट्रेंड देखने के लिए मिल रहा है. इस बार आम चुनाव में आतंकी हाफिज सईद के खानदान से कई लोग चुनाव मैदान में उतरे थे , लेकिन लोगों ने उसे सिरे से नकार दिया है. हाफिज सईद का बेटा तल्हा सईद लाहौर से चुनाव लड़ रहा था लेकिन वो हार गया है. तल्हा सईद की हार से से ये मान जा रहा है कि पाकिस्तान की आवाम दुनिया भर में आतंक फैलने वालों को अपने देश में प्रश्रय देने के आरोपों से उब चुकी है और मौका मिलते ही ये जता भी दिया है. हाफिज सईद का बेटा PTI के समर्थन से लड़ रहे उम्मीदवार लतीफ खोसा ने हार गया है. तल्हा सईद वोटों की संख्या के आधार पर तीसरे नंबर पर रहा.

 पाकिस्तान की आवाम ने आतंकियों को नकारा 

इस चुनाव मे एक खास बात ये भी देखने के लिए मिल रही है कि पाकिस्तान के आवाम ने आतंकियो के पूरे कुनबे को नकार दिया है.  हाफिज सईद की पार्टी मरकजी मुस्लिम लीग ने लगभग हर प्रांत में अपने उम्मीदवार खड़े किये थे,  जिसमें ज्यादातर या तो उसके रिश्तेदार थे या उसके करीबी. जो किसी ना किसी तरह से आतंकी संगठनों लश्कर, जमाद उद दावा , मिल्ली मुस्लिम लीग जैसे संगठनों से जुड़े थे.  अभी तक हाफिज सईद के किसी उम्मीदवार को जीत नहीं मिली है ,ना ही कहीं बढ़त बनाते दिखाई दे रहे हैं.

ये भी पढ़े – Bharat Ratan: चौधरी चरण सिंह, नरसिम्हा राव और एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न, पीएम ने पोस्ट कर दी जानकारी

हाफिज सईद की पार्टी ने  चुनाव प्रचार के दौरान लोगों को बरगलाने के लिए  भारत के खिलाफ आग उगलने के साथ साथ पाकिस्तानी आवाम को इस्लामिक स्टेट बनाने के ख्वाब दिखाने की कोशिश की जिसे आवाम ने सिरे से नकार दिया है.

Latest news

Related news