Saturday, July 20, 2024

रिसोर्ट के नाम पर वेश्यालय चलाने वाला BJP नेता गिरफ्तार, 6 नाबालिगों के रेस्क्यू के बाद हुआ एक्शन !

कभी-कभी जिसे हम रक्षक समझ लेते हैं. वही भक्षक निकलता है. जिन लोगों को जनता अपना कीमती मत देकर चुनाव में जिताती है. वही नेता सफ़ेद पोषाक के भेष में कई बार हैवान निकलते हैं. उस सफ़ेद पोशाक के पीछे अपने काले कारनामों को अंजाम देते हैं. एक ऐसा ही काले कारनामे करने वाले सफ़ेद पॉश नेता को पुलिस का हाथों दबोचा गया है. जी हाँ हम बात कर रहे हैं BJP नेता बर्नार्ड एन मराक की. जिसे यूपी पुलिस ने हापुड़ से गिरफ्तार किया.

Absconding Tura MDC Bernard Marak in Delhi, claims top police sources -  Northeast Live

दरअसल बर्नार्ड के काले कारनामों के खुलासे के बाद मेघालय पुलिस ने बीजेपी नेता की गिरफ्तारी के लिए लुक आउट नोटिस जारी किया था. नोटिस जारी होने के कुछ ही घंटों बाद यूपी पुलिस ने आरोपी नेता को हापुड़ से गिरफ्तार कर लिया. नेता पर फार्म हाउस में ‘वेश्यालय’ चलाने के आरोप लगे हैं. इसी सिलसिले में मेघालय के तुरा कोर्ट ने मराक के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था.

Five kids rescued, 73 arrested from Meghalaya BJP leader's farmhouse run as  'brothel': Police- The New Indian Express

दरअसल, बीते शनिवार को BJP के मेघालय उपाध्यक्ष बर्नार्ड एन मराक के एक रिसॉर्ट से छह बच्चों को रेस्क्यू किया गया था. पुलिस की छापेमारी के दौरान फार्म हाउस ‘रिंपू बागान’ से 73 लोगों को गिरफ्तार किया गया था. जिसमें पुलिस ने दावा किया था कि रिसॉर्ट में एक वेश्यालय चलाया जा रहा था. मेघालय पुलिस के मुताबिक रिसॉर्ट से भारी मात्रा में शराब समेत कई अन्य आपत्तिजनक चीजें बरामद की गई हैं. उसी रिसोर्ट से कई बार नाबालिग का यौन उत्पीड़न के मामले सामने आए थे. इसके बाद आईपीसी की धारा 366ए और 376 के अलावा पॉक्सो अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था. पीड़िता ने कोर्ट को बताया था कि आरोपी उसे और उसके दोस्त को रिंपू बागान ले गया था. जहां उसके साथ आरोपी व्यक्तियों ने कई बार यौन शोषण किया. इसके बाद कोर्ट ने मराक के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था.

लेकिन तब तक मारक फरार हो गया. BJP शासित यूपी में जाकर चिप गया. उसे लगा शायद वहां वो बच जाएगा लेकिन ये तो वही बात हुई आसमान से गिरा और खजूर में अटका. बर्नार्ड जाकर छिपा भी वहां जहाँ का योगी राज अपराधियों से सख्त नफरत करता है. तो जैसे ही यूपी पुलिस को पता चला उन्हों पूरी फ़ोर्स के साथ जाकर BJP नेता को गिरफ्तार कर लिया.
इस मामले में मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया और पुलिस प्रक्रिया को सही बताया. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि इस मामले में वो किसी भी तरह कि राजनीति नहीं चाहते.

Latest news

Related news