Monday, June 17, 2024

दिसंबर में मिलेगा अयोध्या को वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन

त्रेतायुग में सर्व सुविधा संपन्न रही श्रीराम की नगरी अयोध्या का प्राचीन वैभव दोबारा वापस लौटने वाला है. एक तरफ जहां श्रीराम जन्मभूमि पर श्री राम का भव्य मंदिर आकार ले रहा है तो वहीं दूसरी तरफ अयोध्या नगरी को वर्ल्ड क्लास बनाने की कवायद तेज है. मोदी-योगी की डबल इंजन सरकार के प्रयासों से अयोध्या में जहां अन्तराष्ट्रीय एयरपोर्ट का निर्माण हो रहा है, वहीं वर्ल्ड क्लास सुविधाओं से लैस रेलवे स्टेशन की सौगात दिसंबर में अयोध्या वासियों को मिलने जा रही है. आपको बता दें यह देश के सबसे खूबसूरत और आधुनिक सुविधाओं से संपन्न रेलवे स्टेशनों में से एक होगा.
10 हजार वर्गमीटर में होगी रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग
अयोध्या में बन रहे विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन की बिल्डिंग 10 हजार वर्गमीटर में फैली होगी. रेलवे इसके लिए 200 करोड़ रुपये खर्च कर रहा है. स्टेशन को नया लुक देने के लिए यहां खूबसूरत भवन, पार्किंग, कर्मचारियों के लिए आवास, रेलवे पुलिस के लिए कार्यालय, तीन नए प्लेटफार्म, रोड, ड्रेनेज संबंधी कार्य और निर्माण किए जा रहे हैं.
दिसंबर तक तैयार हो जाएगा स्टेशन
अयोध्या रेलवे स्टेशन का काम दिसंबर 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा. नए भवन में फिनिशिंग का काम चल रहा है. यहां बुजुर्गों और महिलाओं की सुविधा के लिए लिफ्ट व एस्केलेटर, एसी वेटिंग रूम, वॉशरूम, पेयजल बूथ, फूड प्लाजा समेत अन्य सुविधाएं तैयार हो चुकी हैं. पूरे भवन को एसी बनाया गया है. दिव्यांगों के लिए रैंप की व्यवस्था होगी. स्टेशन करीब तीन किलोमीटर लंबा होगा. रेलवे स्टेशन के नए भवन का काम 90 फीसदी पूरा हो गया है.
रेलवे स्टेशन अपनी भव्यता यात्रियों का मन मोहने को तैयार है
अयोध्या रेलवे स्टेशन के विस्तार का काम 2018 में शुरू हुआ था. पहले चरण में बने भवन को श्रीराम मंदिर की तर्ज पर भव्य और आकर्षक बनाया गया है. भवन में लगी टाइल्स, पत्थर, शीशे, दरवाजे, लाइटिंग आदि इसकी भव्यता का एहसास करा रहे हैं. भवन के बीच में लगा भारी भरकम पंखा और ठीक उसके नीचे बनी फर्श की डिजाइन का आकर्षण यात्रियों का मन मोहने को तैयार है. यही नहीं स्टेशन परिसर के बाहर का विशाल परिसर भी इसकी भव्यता का गवाह बन रहा है.
स्टेशन पर होंगी सुविधाएं ही सुविधाएं
महिला, पुरुष एवं वीआईपी प्रतीक्षालय, फूड प्लाजा, कियोस्क, किताबों की दुकान, क्लॉक रूम, पर्यटक सूचना, यात्रा डेस्क, वाटर कूलर, दिव्यांगों के लिए अलग शौचालय, शिशु देखभाल कक्ष, यूएस रूम, बीमार कक्ष, लिफ्ट, 4 एस्केलेटर के अलावा बड़े कॉनकोर्स, वीआईपी लाउंज, प्रतीक्षा क्षेत्र, पर्यटक सूचना कार्यालय, रिटायरिंग रूम और लेडिज-जेंट्स डॉरमेट्री आदि सुविधाएं मिलेंगी.

Latest news

Related news