Tuesday, June 18, 2024

नौकरी के लिए एडीएम से डंडा खाने वाले अभ्यर्थी का तेजस्वी यादव से सवाल

तेजस्वी यादव का क्या कलम खो गया,जिससे उन्हें हस्ताक्षर करना था?

रोजगार की मांग करते हुए पटना एडीएम के डंडे की पिटाई का शिकार हुए अनिशु रहमान सवाल उठा रहे हैं कि क्या तेजस्वी यादव का क्या कलम खो गया,जिससे उन्हें हस्ताक्षर करना था?

तेजस्वी यादव युवाओं की बेरोजगारों के मुद्दे पर विपक्ष में रहते हुए नीतीश सरकार को रोजना घेरते नजर आते थे, लेकिन सत्ता में आते ही युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने की उनकी मंशा सवालों के घेरे में आती जा रही है. तेजस्वी यादव से रोजगार की आस लगाये  अभ्यर्थियों का धैर्य अब जवाब देने लगा है. एडीएम का डंडा खाने वाला शिक्षक अभ्यर्थी अनिशु रहमान ने उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को उनके किए रोजगार के वादे याद दिला रहे हैं. अनिशु की मांग है कि तेजस्वी सबसे पहले शिक्षकों के रोज़गार के लिए आदेश पारित करें.

सत्ता में आते ही बिहार में नौकरियों की बहार लाने का सपना दिखाने वाले, दस लाख बेरोजगारों को रोजगार का वादा करने वाले तेजस्वी यादव की नाक के नीचे नौकरी की मांग कर रहे युवाओं पर पुलिस और प्रशासन का बर्बर डंडा चलता है. लेकिन तेजस्वी यादव जांच की बात कर पल्ला झाड़ लेते हैं. घटना के चार दिन बीत जाने का बाद भी अभ्यर्थियों पर बर्बर लाठी चलाने वाले एडीएम केके सिंह पर कोई कार्रवाई नहीं होती है.

ऐसे में युवाओं को रोजगार देने का वादा करने वालों से बेरोजगार अभ्यर्थी निराश नज़र आना जायज है. अनिशु रहमान तेजस्वी यादव से सवाल पूछ रहे हैं कि आखिर ऐसी क्या वजह है कि नौकरी के आदेश पत्र पर हस्ताक्षर नहीं किये जा रहे हैं. जबकि तेजस्वी यादव ने वादा किया था कि सत्ता में आते ही दस लाख युवाओं को रोजगार दिलायेंगे.

अनिशु रहमान की बातों में निराशा झलक रही है, अनिशु ही नहीं राज्य के लाखों युवा रोजगार के मौके तलाश रहे हैं. शिक्षा से लेकर पुलिस विभाग तक में लाखों पद खाली पड़े हैं,  देर है तो बस सरकारी निर्देश का या ये कहें सरकारी मंशा की.

Latest news

Related news