Sunday, May 26, 2024

निकाय चुनाव में फिर होगी चाचा-भतीजे की भिड़ंत

य़ूपी निकाय चुनाव में अखिलेश यादव के सामने होंगे चाचा शिवपाल सिंह यादव. विधानसभा चुनाव के बाद रिश्तों में आई खटास का स्वाद निकाय चुनाव में अखिलेश यादव के दांत खट्टे कर सकता है. शिवपाल यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदित्‍य यादव ने ऐलान किया है कि उनकी पार्टी पूरे दमखम से निकाय चुनाव लडे़गी. आदित्‍य शिवपाल यादव के बेटे और अखिलेश के चचेरे भाई हैं.

आदित्‍य ने कहा पार्टी सभी सीटों पर चुनाव लड़ाने की कोशिश करेगी. पार्टी का टिकट उन्हें दिया जाएगा जो जीतने की स्थिति में होगा. इसके लिए पार्टी उम्मीदवारों के आवेदन ले रही है. आदित्य का कहना है कि जो सभी आवेदनों की जांच कर और तय मानक पूरे उतरने वाले आवेदकों को ही कैंडिडेट बनाया जाएगा. पार्टी की कोशिश है कि वो उम्मीदवारों की घोषणा इसी महिने के आखिर तक कर दे. आदित्य यादव का कहना है कि पार्टी का निकाय चुनाव में उतरने का बड़ा मकसद जमीनी स्तर पर संगठन खड़ा करने की कोशिश है.

आपको याद दिला दें विधानसभा चुनाव के बाद चाचा-भतीजे में काफी ज़ुबानी जंग छिड़ी थी. जहां शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी में बड़े पद की उम्मीद लगाए बैठे थे वहीं अखिलेश यादव का चाचा के लिए संदेश साफ था कि अपनी पार्टी मजबूत करें. चाचा ने भी भतीजे की सलाह मान ली और अब शिवपाल यादव अपनी पार्टी प्रसपा को फिर से सक्रिय करने में जुट गए हैं. उन्होंने अपने बेटे आदित्य को प्रदेशाध्यक्ष का दायित्व सौंपा हैं. शिवपाल खुद सपा से खफा और मुलायम सिंह के वक्त के सपा समर्थकों को जोड़ने की मुहिम छेड़ हुए हैं.

Latest news

Related news