Friday, February 23, 2024

“ओसामा की तरह याकूब को समुद्र में क्यों नहीं दफनाया”-आदित्य ठाकरे

याकूब मेनन की कब्र के सौंदर्यकरण का मामला अब राजनीतिक रंग लेता जा रहा है. बीजेपी के ठाकरे सरकार पर लगाए आरोपों का जवाब देने शिव सेना के नेता आदित्य ठाकरे सामने आए हैं. आदित्य ने बीजेपी पर जवाबी हमला करते हुए पूछा कि “ओसामा बिन लादेन की तरह याकूब मेमन को समुद्र में क्यों नहीं दफनाया गया? तब किसकी सरकार किसकी थी?” आपको बता दें बीजेपी ने छाकरे सरकार पर आरोप लगाया था कि उन्होंने मेनन की कब्र को मज़ार बनाने की इजाज़त दी थी
आदित्य ठाकरे ने क्या कहा
आदित्य ने बीजेपी से सवाल किया है कि “ओसामा बिन लादेन की तरह याकूब मेमन को समुद्र में क्यों नहीं दफनाया गया? तब किसकी सरकार किसकी थी?” आदित्य ठाकरे ने कहा कि आरोप लगाने से पहले ये देखना चाहिए कि वास्तविक स्थिति क्या है, लगाए गए आरोप झूठे हैं. आदित्य ठाकरे ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि “धार्मिक विवाद पैदा करना ठीक नहीं है. जब याकूब मेमन दफनाया गया तो बड़ी सुरक्षा प्रदान की गई थी, और दफनाने के लिए भीड़ भी इकट्ठा हुई थी, इतना मान सम्मान क्यों दिया गया क्या इस पर कोई कार्रवाई होगी ?”
मुंबई पुलिस कर रही है जांच
मुंबई में 1993 ब्लास्ट के दोषी याकूब मेनन की कब्र को सजाने संवारने के मामले में मुंबई पुलिस ने विस्तृत जांच करने का फैसला किया है.
कहा दफन हुआ था याकूब मेनन
याकूब मेनन को 1993 ब्लास्ट मामले में फांसी की सजी दी गई थी. फांसी की सजा के बाद उसे दक्षिण मुंबई के बड़ा कब्रिस्तान में दफना दिया गया था. हाल ही में ये पता चला कि कि आतंकी याकूब मेनन की कब्र पर मार्बल टाइल्स और एलइडी लाइट्स लागाई गई हैं.
बीजेपी ने क्या आरोप लगाए थे
सत्ताधारी बीजेपी का आरोप है कि उद्धव ठाकरे की महाअघाड़ी सरकार में आंतकी याकूब मेनन की कब्र को मज़ार बनाने का फैसला किया गया था. उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नीस ने इस मामले की जांच मुंबई पुलिस को सौंपी है. महाराष्ट्र में गृह विभाग उप मुख्यमंत्री बीजेपी के देवेंद्र फड़नवीस के पास है.

Latest news

Related news