Thursday, April 18, 2024

प्रधानमंत्री ने दी देश को 5G की सौगात, पहले चरण में 13 शहरों को मिलेगी सेवा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को 5 जी सर्विस की सौगात दी है. दिल्ली के प्रगति मैदान में इंडिया मोबाइल कांग्रेस का उद्घाटन के साथ ही पीएम ने मोदी 5G सेवाओं का भी उद्घाटन भी किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रिमोट का बटन दबाकर 5जी सेवाओं का उद्घाटन किया. इस मौके पर केंद्रीय संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव, भारती एंटरप्राइजेज के संस्थापक-अध्यक्ष सुनील भारती मित्तल, उद्योगपति मुकेश अंबानी भी मौजूद रहे. इंडिया मोबाइल कांग्रेस अक्टूबर 1-4 तक चलेगी.

5जी लॉन्च पर पीएम मोदी ने दी देश को बधाई
5जी लॉन्च को प्रधानमंत्री मोदी ने शानदार उपहार बताया. पीएम ने कहा “ आज देश की ओर से, देश की टेलीकॉम इंडस्ट्री की ओर से, 130 करोड़ भारतवासियों को 5G के तौर पर एक शानदार उपहार मिल रहा है. 5G, देश के द्वार पर नए दौर की दस्तक है. 5G, अवसरों के अनंत आकाश की शुरुआत है. मैं प्रत्येक भारतवासी को इसके लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं”
पीएम मोदी ने कहा कि यह इंडिया मोबाइल कांग्रेस समिट तो ग्लोबल है लेकिन इसकी आवाज़ और आगाज़ लोकल है. उन्होंने कहा आज 21वीं सदी के विकसित होते भारत के सामर्थ्य का, इस सामर्थ्य को देखने का, उसके प्रदर्शन का विशेष दिवस है. पीएम ने कहा कि आज़ादी के अमृत महोत्सव के इस ऐतिहासिक कालखंड में आज की तारीख इतिहास में दर्ज होने वाली है.

इस मौके पर केंद्रीय संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, “5G सेवाओं से कई क्षेत्रों जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, लॉजिस्टिक्स, बैंकिंग में मूलभूत परिवर्तन आएगा और नई संभावना पैदा होंगी. डिजिटल क्षमताएं को बीच में रखकर उसके चारों तरफ नई सेवाएं बनेंगी”
भारती एंटरप्राइजेज के संस्थापक-अध्यक्ष सुनील भारती मित्तल ने कहा, “यह एक महत्वपूर्ण दिन है. एक नए युग की शुरुआत होने वाली है। यह शुरुआत आजादी के 75वें वर्ष में हो रही है और देश में एक नई जागरूकता, ऊर्जा की शुरुआत करेगी. यह लोगों के लिए कई नए अवसर खोलेगा.”
इस मौके पर उद्योगपति मुकेश अंबानी ने भी अपनी बात रखी उन्होंने कहा, “मेरे विचार से 5G वह मूलभूत तकनीक है जो 21वीं सदी की अन्य तकनीकों जैसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, रोबोटिक्स, ब्लॉकचैन और मेटावर्स की पूरी क्षमता को अनलॉक करने में मदद करेगी.”

पीएम ने कहा, “जब हम ‘डिजिटल इंडिया’ की बात करते हैं तो कुछ लोग समझते हैं कि यह सरकारी एक योजना है. लेकिन यह सिर्फ नाम नहीं है यह देश के विकास का बहुत बड़ा विजन है. इस विजन का लक्ष्य उस टेक्नोलॉजी को आम लोगों के लिए पहुंचाना है जो आम लोगों के लिए और उनसे जुड़कर काम करें.”

पहले चरण में 13 शहरों को मिलेगी सेवाएं
5 जी के लॉन्च के साथ ही संचार की दुनिया में क्रांति आने की उम्मीद है. पहले चरण में 13 चुनिंदा शहरों के लोग इस सुविधा का आनंद ले पाएंगे. इनमें शहरों में सबसे पहला नाम है चारों महानगर का यानी दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता. इसके बाद बेंगलुरु, हैदराबाद, पुणे, गांधीनगर, जामनगर अहमदाबाद, लखनऊ, चंडीगढ़ और गुरुग्राम जैसे महत्वपूर्ण शहर शामिल हैं.

Latest news

Related news