Monday, February 26, 2024

मारुति और सुजुकी की दोस्ती के 40 साल बेमिसाल

गुजरात के गांधीनगर में रविवार की शाम भारत और जापान के दोस्ती के नाम रही.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों देशों की दोस्ती  को याद किया और इस बेमिसाल रिश्ते को और मजबूत करने के वादे को दोहराया.पीएम मोदी ने भारत में  जापानी और भारत के संयुक्त कंपनी मारुती सुजुकी के 40 साल पूरे होने के मौके पर गांधीनगर में आयोजित एक कार्यक्रम में जापान और भारत की दोस्ती को याद करते हुए कहा-आज गुजरात-महाराष्ट्र में बुलेट ट्रेन से लेकर उत्तर प्रदेश के वाराणसी में रुद्राक्ष सेंटर तक,विकास की कितनी ही परियोजनाएं है जो भारत और जापान की दोस्ती का प्रतीक है.

इस मौके पर पीएम मोदी ने जापान के दिवंगत पीएम शिंजो आबे को याद करते हुए कहा कि जब जब भारत और जापान की दोस्ती का बात होती है तो दिवंगत शिंजो आबे की याद जरुर आती है.शिंजो आबे जब गुजरात आए थे तब उन्होंने जो समय यहां बिताया था,उसे गुजरात के लोग बहुत आत्मीयता से याद करते हैं.हमारे देशों को और करीब लाने के लिए जो प्रयास उन्होंने किए थे,आज उसे पीएम किशिदा आगे बढ़ा रहे हैं.पीएम मोदी ने कहा मारुति-सुज़ुकी की सफलता भारत-जापान की मजबूत पार्टनरशिप का भी प्रतीक है.पिछले आठ वर्षों में तो हम दोनों देशों के बीच ये रिश्ते नई ऊंचाइयों तक गए हैं.

जापान के प्रधानमंत्री पुमियो किशिदा ने भी दोस्ती के इस धागे को मजबूत करते हुए अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि मारुति सुजुकी की सफलता भारत के लोगों और भारत के सरकार की सफलता है. पीएम मोदी के मजबूत नेतृत्व के कारण निर्माण के क्षेत्र में सहायता उपायों के कारण भारत के आर्थिक विकास में तेजी आई है.

भारत में सुजुकी कंपनी के 40 साल पूरे होने के मौके पर पीएम मोदी ने हरियाणा के लिए मारुति सुजुकी वाहन निर्माण सुविधा और गुजरात के हंसलपुर के लिए सुजुकी EV बैटरी प्लांट की आधारशिला भी रखी.

भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों की जरुरत पर बल देते हुए पीएम मोदी ने कहा -इलेक्ट्रिक वाहनों की एक बड़ी खासियत ये होती है कि वो silent होते हैं। 2 पहिया हो या 4 पहिया, वो कोई शोर नहीं करते। ये silence केवल इसकी इंजीन्यरिंग का ही नहीं है, बल्कि ये देश में एक silent revolution के आने की शुरुआत भी है.

 

Latest news

Related news