Thursday, February 22, 2024

बिहार विधानसभा में 23 समितियों का गठन,तारकिशोर लोक लेखा,नीतीश मिश्रा बने शून्यकाल समिति के सभापति…

बिहार विधानसभा में विधायकों की नई समितियों का गठन किया गया है. विधानसभा के अध्यक्ष अवध बिहारी चौधरी ने समिति का गठन और सभापति-सदस्यों को मनोनीत किया है. स्पीकर अवध बिहा

री चौधरी को नियम, सामान्य प्रयोजन एवं विशेषाधिकार का सभापति बनाया गया है.लोक लेखा समिति के सभापति का पद विपक्ष को दिया गया है. लिहाजा पूर्व डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद को इस समिति का सभापति बनाया गया है. इसके पहले सुरेन्द्र प्रसाद यादव समिति के सभापति थे. बीजेपी विधायक नीतीश मिश्रा को शून्यकाल समिति का सभापति बनाया गया है.

बिहार विधानसभा में 23 समितियों का गठन: किये क्या बनाया गया, पढ़िये पूरी सूचि

प्राक्कलन समिति का सभापति भाई वीरेंद्र को बनाया गया है. सरकारी उपक्रम संबंधित समिति के सभापति हरिनारायण सिंह को बनाया गया है. प्रश्न एवं ध्यानाकर्षण समिति का सभापति अमरेंद्र कुमार पांडे को बनाया गया है. प्रत्यायुक्त समिति का सभापति अजीत शर्मा को बनाया गया है. पर्यटन उद्योग संबंधी समिति के सभापति सत्यदेव राम को बनाया गया है. जीतन राम मांझी को अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण समिति का सभापति बनाया गया है. मोहम्मद निहालुद्दीन को निवेदन समिति का सभापति बनाया गया है.

कृषि उद्योग विकास समिति का सभापति सुदामा प्रसाद, राजकीय आश्वासन समिति दामोदर रावत, आवास समिति का सभापति अशोक कुमार चौधरी, आंतरिक संसाधन एवं केंद्रीय सहायता समिति का सभापति नंदकिशोर यादव को बनाया गया है। याचिका समिति भारत भूषण मंडल, संगीता कुमारी को महिला एवं बाल विकास समिति का सभापति बनाया गया है. पूर्व डिप्टी सीएम रेनू देवी को पुस्तकालय समिति का सभापति बनाया गया है। नरेंद्र नारायण यादव को जिला परिषद एवं पंचायत समिति का सभापति बनाया गया है. कृष्ण कुमार ऋषि को गैर सरकारी विधेयक एवं संकल्प समिति का सभापति बनाया गया है. प्रहलाद यादव को पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण समिति का सभापति, .जबकि प्रेम कुमार को बिहार विरासत विकास समिति का सभापति, भूदेव चौधरी को आचार समिति और  शकील अहमद अल्पसंख्यक कल्याण समिति का सभापति बनाया गया है.

Latest news

Related news