Wednesday, May 29, 2024

अंकिता हत्या मामले में हाइकोर्ट ने लिया संज्ञान, इंसाफ दिलाने की मांग बढ़ी.

झारखंड की मासूम लड़की अंकिता की हत्या के मामले में पूरे इलाके में रोष है. लड़की के हिंदु होने और सिरफिरे आरोपी शाहरुख के मुस्लिम होने के कारण इलाके में सांप्रदायिक माहौल गर्म है. मामले की गंभीरता को देखते हुए झारखंड हाइ कोर्ट ने संज्ञान लिया .मामले में डीजीपी को तलब कर रिपोर्ट मांगी है.कोर्ट ने पीड़ित परिवार को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराने के भी निर्देश दिए हैं.
इस मामले में कांग्रेस महासिचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट किया है. प्रियंका गाँधी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि “12वीं में पढ़ने वाली लड़की की निर्मम हत्या दिल दहला देने वाली है. अपराधियों को त्वरित सजा मिलनी चाहिये. अपराध की रोकथाम और न्याय के लिए ज़रुरी है कि महिलाओं के ख़िलाफ़ अपराध की घटनाओं में सख्त और जल्द कानूनी प्रक्रियाओं का पालन किया जाये.’

प्रियंका गांधी के ट्वीट के बाद राहुल गांधी ने भी ट्टीट कर इस घटना को इंसानियत को शर्मसार करने वाला बताया.ऱाहुल गांधी ने लिखा है-

“अंकिता के साथ हुई हैवानियत के बाद उसकी मृत्यु ने हर भारतीय का सिर शर्म से झुका दिया है। आज, देश में महिलाओं के लिए सुरक्षित माहौल बनाने की सख़्त ज़रुरत है.अंकिता और उसके परिवार को न्याय तभी मिलेगा जब इस दरिंदगी को अंजाम देने वाले को जल्द से जल्द कड़ी सज़ा मिलेगी.

झारखंड के दुमका में एकतरफा प्यार के चक्कर में शाहरुख नाम के युवक ने अंकिता नाम की एक लड़की को जला कर मार डाला था. मामले की शुरुआत 22 अगस्त को हुई, शाहरुख ने अंकिता को फोन करके जान से मारने की धमकी दी . अगले दिन जब अंकिता अकेले अपने कमरे में सो रही थी तब शाहरुख ने उसके उपर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दिया. पांच दिन तक अंकिता अस्पताल में मौत से जंग लड़ती रही आखिरकार छठे दिन उसने दम तोड़ दिया. इस मामले में विपक्ष लगातार सरकार पर लापरवाही का आरोप लगा रहा है कि जब अंकिता के साथ ये सब हो रहा था तो नेता पिकनिक मना रहे थे.
इस बीच सोशल मीडिया पर अंकिता का आखिरी वीडियो सामने आया है दिसमें वो अपने साथ हुई पूरी घटना बता रही है. उसने साफ-साफ कहा कि सिरफिरा शाहरुख उसे कई दिनों से परेशान कर रहा था, जिसके बारे में उसने अपने पिता को भी बताया था. अंकिता ने पूरी घटना बताने के साथ-साथ कहा कि जिस तरह से तड़प कर वो मर रही है वैसे ही शाहरुख को भी मौत मिलनी चाहिये. उसका काम केवल झांसा देना और लड़कियों को इधर उधर घुमाना था. अंकिता ने बताया कि शाहरुख ने उसे धमकी दी थी कि अगर वो उसकी बात नहीं मानती है तो वो उसके परिवार के लोगों को मार देगा

हत्या का मामले में विपक्ष और मीडिया के दवबाव के बाद फॉरेंसिक डिपार्टमेंट की टीम मौके पर सबूत इकट्ठी करने पहुंची है लेकिन सवाल ये है कि घटना के 8 दिन बाद कोन से सूबत सुरक्षित मिलेंगे? फॉरेसिंक टीम का आना और जांच करना महज खानापूर्ति साबित ना हो.

Latest news

Related news