Wednesday, May 29, 2024

नहीं भरना चाहते बिजली का बिल तो आज ही कीजिये ये जरुरी काम वरना…

जब से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल बने हैं तब से आम जनता की जेब का बोझ काफी हदतक काम हुआ है. जिसकी वजह है मुफ्त बिजली, पानी, महिलाओं के लिए फ्री बस सेवा लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की है कि दिल्लीवासियों अक्टूबर से मुफ्त बिजली योजना का लाभ तभी मिलेगा जब वे खुद इसके लिए आवेदन करेंगे . इसकी वजह है कि बीते समय में बहुत से आर्थिक रूप से मज़बूत लोगों ने कहा हमे मुफ्त बिजली नहीं चाहिए। इस किसी सब्सिडी या सुविधा कि जरुरत नहीं तो इसलिए 1 अक्टूबर से उन्हीं उपभोक्ताओं को बिजली के बिलों पर सब्सिडी मिलेगी, जो बाकायदा आवेदन करके इसकी मांग करेंगे.

बिजली में सब्सिडी के लिए सीएम अरविंद केजरीवाल ने एक मोबाइल नंबर जारी किया है जिस पर संपर्क करके मिस्ड कॉल देकर या व्हाट्सप्प मैसेज देकर आप आवेदन का फॉर्म हासिल कर सकते हैं .

इसके अलावा बिजली के आने वाले बिल के साथ भी फॉर्म भेजे जाएंगे, जिन्हें भरकर लोग नजदीकी बिजली बिल सेंटर पर जमा करा सकेंगे. आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और यह 31 अक्टूबर तक जारी रहेगी. सीएम ने यह भी साफ कर दिया है कि अब हर साल लोगों को इसी तरह से आवेदन देकर बताना होगा कि वे सब्सिडी जारी रखना चाहते हैं या उसे छोड़ना चाहते हैं. जो लोग आवेदन नहीं करेंगे, उनकी सब्सिडी अपने आप 31 अक्टूबर के बाद खत्म हो जाएगी.

अगर सब्सिडी नहीं लेनी है, तो कुछ करने की जरूरत नहीं है। अक्टूबर के बाद अपने आप बिल आने लगेगा। जो लोग 31 अक्टूबर तक आवेदन कर देंगे, उनकी सब्सिडी पहले की तरह जारी रहेगी. नवंबर में या उसके बाद आवेदन करेंगे तो अक्टूबर तक का पूरा बिल भरना होगा या दिसंबर में आवेदन करेंगे, तो अक्टूबर और नवंबर का पूरा बिल भरना होगा।

बिजली सब्सिडी जारी रखने के लिए इस तरह करें आवेदन

पहला तरीका– दिल्ली सरकार आगामी बिजली के बिल के साथ एक फॉर्म भेजेगी. आप उस फॉर्म को भरकर किसी भी नजदीकी सेंटर पर जमा करा दें. आवेदन के प्रोसेस हो जाने के बाद एक मेसेज के जरिए आपको सब्सिडी जारी रहने की सूचना दी जाएगी.

दूसरा तरीका– दिल्ली सरकार ने एक मोबाइल नंबर 7011311111 जारी किया है. आप इस नंबर पर मिस्ड कॉल करें या इसे अपने फोन में सेव करने के बाद वॉट्सऐप से इस नंबर Hi लिखकर भेजें. तुरंत आपके पास एक एसएमएस आएगा, जिसके साथ एक लिंक भेजी जाएगी. उस लिंक पर क्लिक करते ही आपके मोबाइल पर एक फॉर्म खुल जाएगा. आप उस फॉर्म को भरकर भेज दें और आप सब्सिडी लेने वालों की लिस्ट में शामिल हो जाएंगे. जिनके मोबाइल नंबर बिजली के बिल के साथ पंजीकृत हैं, उनको दिल्ली सरकार भी अलग से मेसेज भेजेगी। आवेदन करने के तीन दिन बाद एसएमएस या ई-मेल के जरिए आपको सूचना दी जाएगी कि आपकी सब्सिडी जारी रहेगी।

प्रेस कांफ्रेंस में अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में बिजली के करीब 58 लाख घरेलू उपभोक्ता हैं, जिनमें करीब 47 लाख उपभोक्ताओं को सब्सिडी का लाभ मिलता है। इन 47 लाख उपभोक्ताओं में से 30 लाख ऐसे हैं, जिनके बिजली के बिल जीरो आते हैं। वहीं करीब 16-17 लाख उपभोक्ता ऐसे हैं, जिनके बिजली के बिल आधे आते हैं, क्योंकि दिल्ली में 200 यूनिट बिजली पूरी तरह फ्री है और 201 से 400 यूनिट तक आधे रेट पर बिजली मिलती है। कुछ लोगों का मानना था कि वो बिजली का पूरा बिल देने में सक्षम हैं, लेकिन इसके बावजूद उन पर जबरन सब्सिडी थोपी जा रही है। ऐसे लोग सब्सिडी छोड़ने का विकल्प चाहते थे। उसी को देखते हुए दिल्ली सरकार ने कुछ महीने पहले फैसला किया था कि सब्सिडी की पुरानी स्कीम 30 सितंबर तक ही जारी रखेंगे और 1 अक्टूबर से उन्हीं को सब्सिडी मिलेगी, जो मांगेंगे। तो ये जानकारी और ये खबर आपको किसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं

Latest news

Related news