Saturday, July 20, 2024

Rishi Sunak Cabinet reshuffle: भारतीय मूल की गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन बाहर, 7 साल बाद पूर्व प्रधान मंत्री डेविड कैमरन ब्रिटेन की राजनीति में हुई वापसी

ब्रिटिश प्रधान मंत्री ऋषि सुनक की कैबिनेट में फेरबदल देखने को मिल रहा है. सुनक ने भारतीय मूल की गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन को बर्खास्त कर दिया है. असल में गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन ने पिछले हफ्ते शनिवार को हुए फिलिस्तीन के समर्थन एक मार्च को संभालने के लिए पुलिस के तरीके पर सवाल उठाते हुए एक लेख प्रकाशित कर ऋषि सनक को चुनौती दी थी.

संघर्ष विराम की मांग करने वालों को कहा था नफरती

इसके साथ ही उनके उस बयान की भी कड़ी निंदा हुई थी जिसमें उन्होंने लंदन पुलिस पर हमला करते हुए कहा था कि, लंदन का पुलिस बल “फिलिस्तीनी समर्थक भीड़” के कानून तोड़ने की अनदेखी कर रहा था, इसके साथ ही उन्होंने गाजा में संघर्ष विराम का आह्वान करने वाले प्रदर्शनकारियों को “नफरत फैलाने वाले” बताते हुए प्रधानमंत्री ऋषि सुनक को चुनौती दी थी.

पूर्व प्रधानमंत्री डेविड कैमरन की हुई राजनीति में वापसी

इसके साथ ही सुनक की कैबिनेट दूसरा बड़ा बदलाव है पूर्व प्रधानमंत्री डेविड कैमरन की वापसी, कैमरन को विदेश मंत्री बनाया गया है. वह साल 2010 से 2016 तक ब्रिटेन के पीएम रहे हैं. उन्होंने यूरोपीय यूनियन से ब्रिटेन के अलग होने के पक्ष में आए जनमत संग्रह के फैसले के बाद इस्तीफा दिया था.

डेविड कैमरन ने कहा ऋषि सुनक को धन्यवाद

ऋषि सुनक के फैसले की जानकारी देते डेविड कैमरन ने एक्स पर एक पोस्ट कर कहा, “प्रधान मंत्री ने मुझसे अपने विदेश सचिव के रूप में काम करने के लिए कहा है और मैंने सहर्ष स्वीकार कर लिया है.
हम अंतरराष्ट्रीय चुनौतियों का सामना कर रहे हैं, जिनमें यूक्रेन में युद्ध और मध्य पूर्व में संकट शामिल है. गहन वैश्विक परिवर्तन के इस समय में, इस देश के लिए अपने सहयोगियों के साथ खड़ा होना, अपनी साझेदारियों को मजबूत करना और यह सुनिश्चित करना शायद ही कभी अधिक महत्वपूर्ण रहा हो कि हमारी आवाज सुनी जाए.”
इसके साथ ही डेविड कैमरन ने लिखा, “हालाँकि मैं पिछले सात वर्षों से अग्रिम पंक्ति की राजनीति से बाहर हूँ, मुझे आशा है कि मेरा अनुभव – ग्यारह वर्षों तक कंजर्वेटिव नेता और छह वर्षों तक प्रधान मंत्री के रूप में – प्रधान मंत्री को इन महत्वपूर्ण चुनौतियों का सामना करने में मदद करने में मेरी सहायता करेगा.”

ये भी पढ़ें- Chhattisgarh Assembly Election 2023:भूपेश बघेल का नया दांव,महिलाओं को देंगे 15 हज़ार

Latest news

Related news