Monday, July 22, 2024

गुलाम नबी आज़ाद का राहुल पर वार-“अभी उसका डॉक्टर कंपाउंडर है”

कांग्रेस के दिग्गज नेता गुलाम नबी आज़ाद के पार्टी छोड़ने के बाद से शुरु हुई जुबानी जंग थमने का नाम ही नहीं ले रही है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे अपने खत में गुलाम नबी आज़ाद ने जो आरोप लगाए उसको कांग्रेस के कई दिग्गजों ने उनपर हमला बोल दिया. किसी ने उन्हें मौका परस्त कहा तो किसी ने उनके डीएनए के मोदी-फाइड हो जाने की बात की. अब गुलाम नबी आज़ाद ने भी अपने पर हमला करने वालों को जवाब दिया है.
कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव पर क्या बोले गुलाम नबी आज़ाद
मीडिया के पूछे सवालों के जवाब में गुलाम नबी आज़ाद ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी समेत जयराम रमेश पर भी निशाना साधा. गुलाम नहीं आज़ाद से जब पार्टी में अध्यक्ष पद के चुनाव की तारीख घोषित करने की बात की गई तो उन्होंने कहा “मैं कांग्रेस के लिए दुआ ही कर सकता हूं लेकिन कांग्रेस मेरी दुआ से ठीक नहीं होगी उसके लिए दवा चाहिए। अभी उसका डॉक्टर कंपाउंडर है। अभी कांग्रेस को स्पेशलिस्ट की जरूरत है”
“GNA का DNA मोदी-फाइड हो गया है“ जयराम रमेश के बयान पर दी प्रतिक्रिया
पत्रकारों ने जब गुलाम नबी आजाद से जयराम रामेश के उनके डीएनए पर की गई टिप्पड़ी के बारे में पूछा गया तो वो बोले “पहले वे (जयराम रमेश) अपना DNA चेक करवाएं कि कहां के हैं और किस पार्टी से हैं, वह देखें कि उनका DNA किस-किस पार्टी में रहा है। बाहर के लोगों को कांग्रेस का अता-पता नहीं है। चापलूसी और ट्विट कर जिन्हें पद मिले अगर वे आरोप लगाएं तो हमें दुख होता है”
“गुलाम नबी आज़ाद का रिमोट कंट्रोल भाजपा के हाथ में है” के सवाल पर बोले आजाद
पार्टी छोड़ने को लेकर एक बार फिर गुलाम नबी आज़ाद ने राहुल गांधी पर निशाना साधा और कहा “घर वालों ने घर छोड़ने पर मजबूर किया और जहां घर वालों को लगे कि यह आदमी नहीं चाहिए तो अक्लमंदी खुद घर छोड़ने में है…जो शख्स अपनी स्पीच खत्म करने के बाद भरी सदन में उनसे(PM से) गले मिले, तो वे मिले हैं या मैं मिला हूं?”
गुलाब नबी आज़ाद ने कांग्रेस नेताओं के लगाए आरोपों का तो जवाब दिया लेकिन अपने भविष्य को लेकर खामोशी साध ली. चर्चा है कि गुलाम नबी आज़ाद कश्मीर चुनाव से पहले अपनी पार्टी बनाएंगे और नेश्नल कॉन्फ्रेंस के फारुख अब्दुल्ला के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे.

Latest news

Related news