Monday, July 22, 2024

Unnao में हुए हादसे में 3 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज, 35 बसों का रजिस्ट्रेशन रद्द

यूपी। उन्नाव Unnao में बुधवार को हुई सड़क दुर्घटना में बस में सवार 18 लोगों की मौत हो गई, वहीं करीब 19 लोग इस हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए. इसी को लेकर अब यूपी पुलिस एक्शन मोड में आ गई है. इस घटना पर एक्शन लेते हुए पुलिस ने बस मालिक और अन्य दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस को जांच पड़ताल के समय पता चला की बस मालिक के पास 39 बसें थी. ये सभी बसे सालों से बिना किसी परमिट के सड़को पर दौड़ रही थीं।

Unnao हादसे के बाद खुली आंख

आपको बता दें कि जो बस हादसे का शिकार हुई, उसका नंबर है यूपी 95 टी 4729 है. इतनी बड़ी संख्या में मौते होने के बाद शासन अपने एक्शन मोड में आ गया है.इस हादसे के बाद ट्रैवल्स एजेंसी के मालिक-ठेकेदार के खिलाफ भी मामला दर्ज हुआ है. इसके अलावा जांच के दौरान ये बात भी सामने आई कि यूपी के महोबा से लेकर दिल्ली और बिहार तक बस माफियाओं द्वारा सिंडीकेट बनाकर इस तरह की बिना परमिट बसों को सड़को पर दौडाया जा रहा है।

उन्नाव हादसे के बाद जब मामले की तहकीकात की गई तो पता चला कि उन्नाव में जिस बस का एक्सिडेंट हुआ उस बस के मालिक के नाम पर अकेले ही 39 बसे रेजिस्टर हैं. हादसे के बाद बसों शासन से जानकारी आरटीओ उदयवीर सिंह अपनी टीम के साथ महोबा आईटीओ विभाग पहुंचे. इस दौरान जब उन्होंने जब बसों को दस्तावेजों को देखा तो वे देखकर हैरान रह रहा कि कैसे केवल एक व्यक्ति पुष्पेंद्र के नाम पर 39 बस है।

कैसे हुआ हादसा?

यूपी के उन्नाव में बुधवार की सुबह लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर भीषड़ हादसा हुआ. इस हादसे में एक बस की टक्कर दूध कंटेनर से हो गई. ये टक्कर इतनी जोरदार थी कि हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई वहीं बड़ी संख्या में लोग हादसे में घायल हो गए , जिन्हें फौरन अस्पताल में भर्ती करवाया गया. इस हादसे में मृतकों के परिजनों को प्रधानमंत्री मोदी ने 2-2 लाख देने का रुपये देने का ऐलान किया था।

 

 

Latest news

Related news