Saturday, July 20, 2024

ICC World Cup हारने के बाद भी कायम है Team India का जलवा,पाकिस्तान में भी बज रहा डंका

नई दिल्ली : ICC World Cup 2023 में चैंपियन बनने का भारत का सपना भले ही अधूरा रह गया हो, पूरे टूर्नामेंट में नंबर 1 पर बने रहने के बावजूद फाइनल में आकर ऑस्ट्रेलिया ने बाज़ी मार ली हो  लेकिन हारने के बाद भी टीम इंडिया की तारीफ हर जगह हो रही है. जिस अंदाज़ में भारतीय क्रिकेट टीम ने वर्ल्ड कप 2023 के फाइनल में एंट्री मारी थी, उसकी चौतरफा वाहवाही हुई . आमतौर पर क्रिकेट में राइवल माने जाने वाले पाकिस्तान में भी भारत के बेहतरीन क्रिकेट की तारीफ हो रही है.

ICC World Cup की इंडियन टीम के वसीम अकरम भी हुए मुरीद

ICC World Cup 2023 में बेशक टीम इंडिया को वर्ल्ड कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हार मिली हो इसके बावूजद इसके पड़ोसी देश पाकिस्तान के लेजेंड्री क्रिकेटर वसीम अकरम ने भारतीय क्रिकेट टीम की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि पड़ोसी मुल्क की क्रिकेट अच्छी स्थिति में है. ऑस्ट्रेलिया ने अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए फाइनल में 6 विकेट की जीत के साथ भारत का विश्व कप जीतने का सपना तोड़ दिया.पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वसीम अकरम भी भारतीय क्रिकेट टीम के मुरीद हो गए हैं.

WASIM AKRAM SPEEKS FOR INDIA
WASIM AKRAM SPEEKS FOR INDIA

इसके साथ ही वसीम अकरम ने कहा, ‘जाहिर तौर पर फाइनल हारने से वे टूट गए होंगे लेकिन क्रिकेट में ऐसी चीजें होती रहती हैं. भारत का एक दिन खराब रहा और दुर्भाग्य से ऐसा फाइनल में हुआ. आप उनके ढांचे, खिलाड़ियों के लिए पैसा, समझदारी से तैयार कार्यक्रम और बैकअप प्रतिभा को देखें और उन्हें सिर्फ ये चीजें जारी रखने की जरूरत है. उनका क्रिकेट काफी अच्छी स्थिति में है.’

अकरम ने कहा कि एक पूर्व खिलाड़ी होने के नाते वह जानते हैं कि नॉकआउट मैच में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मानसिक रूप से कितने मजबूत होते हैं. ‘जब हम 1999 विश्व कप फाइनल में उनके साथ खेले थे तब मैं कप्तान था. हमने उन्हें लीग चरण में हराया था लेकिन फाइनल में वे अहमदाबाद में कल की तरह एक अलग टीम थे.’ भारतीय टीम चौथी बार विश्व कप के फाइनल में पहुंची थी. बड़े मैच का प्रैशर भारतीय खिलाड़ी झेल नहीं पाए और आसानी से फाइनल गंवा बैठे.

रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम ने अजेय रहते हुए फाइनल का टिकट कटाया था. टीम इंडिया ने लगातार 10 मैच जीते थे. सभी खिलाड़ी फाइनल से पहले बेहतरीन लय में थे. विराट कोहली ने 11 मैचों में सर्वाधिक 765 रन बनाए, वहीं मोहम्मद शमी ने 7 मैचों में 24 विकेट निकाले. कोहली को टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया. भारतीय टीम खिताबी मुकाबले में 240 रन पर ढेर हो गई. वहीँ ऑस्ट्रेलिया ने ट्रेविस हेड के शतक और मार्नस लैबुशेन के नाबाद अर्धशतक के दम पर छठी बार विश्व कप अपने नाम कर लिया.

भारतीय टीम भले ही फानल में हार गई हो लेकिन विश्व स्तर परल विश्वकप जीतन ेके बाद भी जितने चर्चे ऑस्ट्रेलिया के जीत के नहीं  हो रहे हैं,उससे कही ज्यादा टूर्नमेंट हारने के बाद भी भारतीय टीम के प्रशासन की हो रही है. इसका अंदाज़ इसी बात से लगाया जा सकता है कि भारत के चीर विरोधी माने जाने वाले पाकिस्तानी खिलाड़ी भारत के क्रिकेट और क्रिकेटर्स के कायल नज़र आ रहे हैं.

Latest news

Related news